Header Ads

  • BREAKING NEWS

    बिहार के सीतामढ़ी में अमित शाह ने महागठबंधन पर जमकर हमला बोला ,कहा लालू-राबड़ी के राज में बिहार में गुंडागर्दी, जातिवाद, अपहरण, बलात्कारके साथ तबादला उद्योग चलता था




    We News24  Hindi »बिहार सीतामढ़ी 
    ब्यूरो संवाददाता पवन साह

    बिहार :लोकसभा चुनाव को लेकर राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के लिए चुनाव प्रचार करने रविवार को भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह बिहार में हैं। उन्‍होंने पहले सीतामढ़ी में जनसभा को संबोधित किया। इसके बाद उन्‍होंने सारण में राजग के लिए वोट मांगे 

     सीतामढ़ी में बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा के जिन्ना वाले बयान को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला। शाह ने कहा कि अभी-अभी शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि जिन्ना भी महात्मा गांधी और सरदार पटेल की तरह महापुरुष थे। जिस जिन्ना ने देश को तोड़ने का काम किया उसकी प्रशंसा ये कांग्रेस वाले कर रहे हैं, ये उनका चरित्र बताता है। 


    अमित शाह ने कहा कि वर्षों से पिछड़े वर्ग की मांग थी कि उन्हें संवैधानिक सम्मान मिलना चाहिए। लेकिन कांग्रेस, आरजेडी ने कुछ नहीं किया है। मोदी जी की सरकार ने पिछड़े वर्ग के सम्मान के लिए पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का का किया है। उन्होंने कहा कि यूपीए की सरकार ने बिहार को 1 लाख 93 हजार करोड़ रुपये दिए थे। नरेन्द्र मोदी जी सरकार ने बिहार के विकास के लिए 5 साल में 6 लाख 6 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा की धनराशि दी है।

    बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि लालू-राबड़ी के राज में बिहार में गुंडागर्दी, जातिवाद, अपहरण, बलात्कार होते थे, तबादला उद्योग चलता था। बिहार को इस जंगलराज से मुक्ति नीतीश कुमार और सुशील मोदी जी की जोड़ी ने दी है। महागठबंधन के उमर अब्दुल्ला कहते हैं कि कश्मीर में दूसरा पीएम होना चाहिए। ये चाहते हैं, कश्मीर भारत से अलग हो जाए। अगर कभी हमारी सरकार न भी रही तो भी जब तक भाजपा के एक भी कार्यकर्ता के शरीर में जान है तब तक कश्मीर को भारत से कोई अलग नहीं कर सकता। 


    यह भी पढ़े :बिहार के सुगौली में CM योगी और सीतामढ़ी में BJP अध्यक्ष अमित शाह चुनावी सभा को संबोधित करेंगे

    उन्होंने कहा कि जब लालू-राबड़ी का और राहुल बाबा के परिवार का शासन चलता था, तब गरीब इलाज कराने के लिए बेबस था। गरीब के पास इलाज के लिए पैसे नहीं होते थे। आज आयुष्मान भारत योजना से देश के करीब 24 लाख लोगों का मुफ्त इलाज कराने का काम भाजपा की मोदी सरकार ने किया है।  मोदी जी से आज तक एक भी छुट्टी नहीं ली। दूसरी ओर गठबंधन के नेता हर तीसरे-चौथे महीने छुट्टी लेकर चले जाते हैं। देश में पूरब, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण सब जगह मोदी- मोदी के नारे सुनाई दे रहे हैं। ये नारे देश की जनता इसलिए लगा रही है कि 70 साल से देश जिस शासन की राह देश देख रहा था, वो शासन मोदी जी की सरकार ने दिया है।



    आतंकवादियों से इलू-इलू क‍रें राहुल व लालू, हम लेंगे बदला 
    कांग्रेस व राजद की ओर इशारा करते हुए अमित शाह ने कहा कि जिस दिन पाकिस्‍तान के भीतर घुसकर भारत ने अटैक किया, भारत में उनके सरपरस्तों के चेहरों पर हवाइयां उड़ने लगीं थीं। उन्‍होंने आगे सीधा हमला करते हुए कहा कि राहुल बाबा व लालू जी, आपको आतंकवादियों से इलू-इलू करना है तो करिए। यह नरेंद्र मोदी की सरकार है। यदि पाकिस्तान से बम गिरा तो हम उसका बदला लेंगे। 

    यह भी पढ़े :नितीश कुमार ने पलटी मारकर 11 करोड़ मतदाताओं के साथ धोखा किया ,शरद यादव


    आतंकवादियों को उसी की भाषा में देंगे जवाबपुलवामा हमले की चर्चा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति के बल पर वायुसेना के शौर्य ने जब पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों को ध्वस्त किया तो 'महामिलावटी ठगबंधन' में खलबली मच गई। राहुल और कांग्रेस पार्टी के तमाम नेता एयर स्ट्राइक का सुबूत मांगने लगे। कहने लगे कि पाकिस्तान से बातचीत होनी चाहिए। उन्‍होंने सवाल किया कि देश की जनता बताए कि हम पाकिस्तान से बातचीत करें या आतंकियों को मौत के घाट उतारें। इसपर जनसभा में उपस्थित लोगों ने एक स्वर में आतंकवादियों को ख़त्म करने की बात का समर्थन किया। 

    अमित शाह ने कहा कि यह न्यू इंडिया है। आतंकवादियों को उसी की भाषा में जवाब दिया जाएगा। भारत रुकने वाला नहीं है। पाकिस्तान की ओर से गोली आएगी तो भारत की ओर से गोला जाएगा। 

    यह भी पढ़े :बिजली नहीं तो वोट नहीं ,बैरगनिया के मतदाता नोटा पर अड़े रहे


    नीतीश सरकार राज्य के विकास के लिए प्रयत्नशीलअमित शाह ने कहा कि नीतीश कुमार और सुशील मोदी की सरकार ने बिहार को जंगलराज से मुक्ति दिलाई। राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा कि वे मोदी सरकार का हिसाब मांगते हैं, लेकिन बिहार की जनता कांग्रेस पार्टी के एक परिवार की चार पीढ़ियों का हिसाब मांग रही है। कांग्रेस ने आजादी के बाद 55 वर्षों तक देश में शासन किया, लेकिन बिहार विकास में पिछड़ता ही गया। 


    बिहार का विकास कर रही नीतीश-सुशील मोदी की सरकारकहा कि 10 साल तक केंद्र में मनमोहन की सरकार रही, लेकिन उन्होंने बिहार को अंतिम पांच वर्षों में केवल 1,93,000 करोड़ रुपये ही दिए। जबकि, मोदी सरकार ने बिहार के लिए लगभग 6,06,000 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की। छह लाख छह हजार 783 करोड़ रुपये बिहार के विकास के लिए खर्च किए। नीतीश कुमार और सुशील कुमार मोदी की सरकार राज्य के विकास के लिए प्रयत्नशील है। 

    यह भी पढ़े :प्रियंका गांधी ने PM नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा ,जो जनता के बीच नहीं जाता उसे सत्ता में रहने हक नहीं

    हमने दिया गरीब सवर्णों को 10 फीसद आरक्षणशाह ने कहा कि हमने पिछड़ा वर्ग आयोग बनाया। मुजफ्फरपुर के भगवान लाल सहनी को आयोग का पहला अध्यक्ष बनाया। गरीब सवर्णों को 10 फीसद आरक्षण दिया। सीतामढी में रेलवे लाइन का विद्युतीकरण कराया गया। अयोध्या से जनकपुर तक बस सेवा शुरू कराई। सीतामढ़ी को रामायण सर्किट से जोड़कर  480 करोड़ रुपये दिए। 


    राजग के पक्ष में मतदान की अपील अमित शाह ने अंत में देशहित में व विकास के लिए जनता से राजग के पक्ष में वोट देने की अपील की। कहा कि बिहार की 40 सीटों पर जीत दिलानी है। एक-एक वोट मोदी के खाते में जाना चाहिए।
    अनुराग राजपूत द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad