Header Ads

  • BREAKING NEWS

    ऑनलाइन पत्रकारिता का महत्व क्यों बढ़ा, एक अच्छे पत्रकार में होने चाहिए ये गुण


    We News24 Hindi »नई दिल्ली
    एडिटर एंड चीफ दीपक कुमार व्याहुत 
    नई दिल्ली :आज मीडिया के आकर्षण से कोई नहीं बचा है। मीडिया जहां एक ओर जनता की सशक्त आवाज बन कर उभरा है, वहीं वह युवाओं की पहली पसंद भी बनता जा रहा है।  मीडिया के प्रति ये  आकर्षण केवल शहरों में ही नहीं सदूर और ग्रामीण क्षेत्रों के युवा  मीडिया प्रति आकर्षित आते हैं। 
    मीडिया केवल खबरों से ही नहीं जुड़ा हुआ है। मीडिया अपने आप में एक समावेश है, जिसमें समाचार, मनोरंजन, ज्ञान, सब कुछ शामिल है। आज आप कोई भी समाचार पत्र पढ़े इसमें आपको  अलग-अलग विषयों की सामग्री मिलेगी ।आज भी यही कहा जाता है कि यदि आगे बढ़ना है तो देश दुनिया की खबर पढ़े। मतलब ज्ञान  का पिटारा। वो आप अख़बार के माध्यम से पढ़े सकते है |आज अखबार का कलेवर कुछ ऐसा है कि इसमें जीवन से जुड़े हर पहलू को समेट लिया जाता है।
    अब चलते है आज के आधुनिक समचार के माध्यम की और जैसे  टेलीविजन और इंटरनेट। टेलीविजन पर समाचार पढ़े जाते हैं, उनका विश्लेषण किया जाता है, मंथन किया जाता है। एक्सपर्ट अपनी अपनी राय देते हैं और इसमें भी ज्ञान और मनोरंजन दिखाया जाता है।


     कमोबेश कम्प्यूटर पर भी इंटरनेट के माध्यम से आप ई-पेपर पढ़ सकते हैं, समाचार पढ़ सकते हैं, देख सकते हैं। यानी मीडिया में रोजगार की अपार संभावनाएं मौजूद हैं, बस आपको अपना विषय चुनना है, अपना क्षेत्र पसंद करना है।


    वेब मिडिया 

    ऑनलाइन यानि वेब मीडिया ने वैसे तो 10 साल पहले ही देश में अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी थी लेकिन हाल में सरकार के डिजिटलाइजेशन पर जोर देने से इस क्षेत्र में आने वाले दिनों में नौकरी की संभावनाएं और बढ़ गई हैं। अगर आप की भी रुचि न्यूज अाैर दुनिया में घट रही घटनाओं को लिखने में है, तो इस फील्ड में चमकदार करियर बना सकते हैं। इंटरनेट आने के बाद पत्रकारिता का भविष्य अब वेब पर आ गया है। वेब यानी ऑनलाइन मीडिया। इसे ही न्यू मीडिया भी कहते हैं। प्रिंट, रेडियो और टीवी की चकाचौंध के बीच तेजी से उभरता हुआ यह एक ऐसा मीडिया है, जहां आप कुर्सी पर बैठे-बैठे ही कोई भी अखबार देख और पढ़ सकते हैं। भले ही वे दुनिया भर में कहीं भी प्रकाशित हो रहे हों। किसी भी भाषा में हों। स्मार्ट मोबाइल के आ जाने से तो अब आप चलते-फिरते कहीं भी, जहां चाहें खबर पढ़ सकते हैं। दिनभर की खबरों से अपडेट रह सकते हैं। इसके लिए अब किसी अखबार और टीवी का इंतजार नहीं करना पड़ता।

    ये भी पढ़े :जागरूकता के द्वारा हम एनीमिया से बचाव कर सकते है

    वेब पत्रकारिता बहुत हद तक इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से मेल खाती है
    इंटरनेट के माध्यम से की जाने वाली यह वेब पत्रकारिता बहुत हद तक इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से मेल खाती है। लेकिन इसकी व्यापकता और पुरानी खबरों को दोबारा देख सकने की सुविधा के कारण आज इसका अपना एक अलग वजूद कायम हो चुका है। इंडस्ट्री के विशेषज्ञों का भी मानना है कि आगे आने वाला दौर वेब जर्नलिज्म का है। क्योंकि ज्यों-ज्यों देश में इंटरनेट तक लोगों की पहुंच बढ़ रही है। यह फील्ड भी तेजी से विकास कर रहा है। यही कारण है कि कुशल वेब पत्रकारों की मांग भी बढ़ रही है।

    ऑनलाइन पत्रकारिता का महत्व बढ़ गया
    मीडिया की दुनिया में अब ऑनलाइन पत्रकारिता का महत्व बढ़ गया है मीडिया पढ़ाने वालों और पढ़ने वालों का इंटरनेट की खासियतों का समझना होगा। वरना उन्हें मीडिया में आउटडेटेड होते हुए देर नहीं लगेगी। इंटरनेट न सिर्फ पूरे मीडिया जगत पर असर डालने की स्थिति में है, बल्कि कई कारोबार का चेहरा इस माध्यम  से पूरे तौर पर बदलने जा रहा है। विकसित देशों में  वहां छपे हुए अखबार और छपी हुई पत्रिकाएँ बाकी तरह की प्रतिस्पर्धा का सामना तो कर ही रही हैं, पर उनकी प्रतिस्पर्धा अपने ही ऑनलाइन संस्करणों से भी है। ऑनलाइन खबर पढ़ने वाले की रूचि बढ़ रहे हैं, मुद्रित संस्करण की मांग दिनों दिन कम होती जा रही है। ऐसी सूरत भारत में आने वाले दिनों में भी विकसित देश जैसी स्तिथि होती जा रही है | इंटरनेट की खासियत का एक आयाम  है कि कम लागत के चलते कई कारोबारी ,अपना वेबसाइट बनाकर अपना व्यपार कर रहे है । 

    ये भी पढ़े :पटना केरला एवं नागालैण्ड पूर्व राज्यपाल के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी गयी

    इंटरनेट को बाकी और माध्यमों से अलग करती हैं
    इंटरनेट को बाकी और माध्यमों से अलग करती हैं। फिर एक बड़ी खासियत इंटरनेट माध्यम को बेहद महत्वपूर्ण बनाती है, वह यह है कि कुछ क्लिक में यहां पूरा कारोबार संपन्न हो जाता है। जैसे टीवी पर विज्ञापन आता है, उस विज्ञापन में कुछ को दर्शक याद रखता है। फिर याद रखने के बाद बाजार में उस चीज की मांग करता है। इंटरनेट पर विज्ञापन पर दर्शक या पाठक क्लिक  करता है। क्रेडिट या डेबिट कार्ड का यूज करता है, तीन-चार मिनट में माल खरीद लिया गया। टीवी और प्रिंट के विज्ञापन के मुकाबले इंटरनेट का विज्ञापन ज्यादा सीधी मार करता है और इंटरनट विज्ञापन में खरीदार और विक्रेता के बीच कोई नहीं है। इसलिए आज ऑनलाइन  पत्रकारिता हो या व्यसाय हो इसके लिए लोग आवाज उठा रहे है | क्योकि जो लोग इस क्षेत्र में पकड बना राखी उन्हें  बाहर जाने का खतरा है | इसलिए वेब पत्रकारिता और वेब व्यसाय को बंद करने के आवाज उठा रहे है |
    कम्प्यूटर और सॉफ्टवेयर का ज्ञान
    आज आप कम्प्यूटर के बिना अपने जीवन की कल्पना नहीं कर सकते। जीवन के हर स्तर पर कंप्यूटर का प्रयोग होता है और यही कारण है कि मीडिया भी इससे अछूता नहीं है। आप मीडिया में तभी सफल हो सकते हैं, यदि आप कम्प्यूटर जानते हैं। कम्प्यूटर के साथ-साथ यदि आप वहां प्रयोग होने वाले सॉफ्टवेयर में भी पारंगत हों तो और भी अच्छा होता है। आज बहुत-सी जगहों पर क्वार्क सॉक्टवेयर का प्रयोग किया जा रहा है, जो पेज मेकिंग के लिए प्रयोग में लाया जाता है। तो कम्पयूटर का कार्यसाधक ज्ञान जरूरी है। इसके अलावा इन्ट्रो, टाइटल, बैनर, क्रॉस लाइन, ड्रॉपलाइन, ब्लॉक, डिस्पले, लेट न्यूज, डमी, डबलैट, क्लासीफाइड, कॉलम जैसे तकनीकी शब्दों का ज्ञान भी होना चाहिए।

    ये भी पढ़े :भारतीय स्‍टेट बैंक के ग्राहकों के लिए एक अच्‍छी खबर

    प्रेस विधि की जानकारी
    एक पत्रकार के रूप में या फिर पत्रकारिता के पेशे से जुड़े किसी भी व्यक्ति के लिए यह जरूरी है कि वह प्रेस विधि की जानकारी रखे। चूंकि पत्रकारिता में भी आचार संहिता है और इसका प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, दोनों द्वारा पालन करना जरूरी है, अत: इसके लिए प्रेस विधि की जानकारी होनी चाहिए। इसमें विशेषत: कॉपीराइट एक्ट, ऑफिशियल सीक्रेसी एक्ट, इंडियन प्रेस काउंसिल आदि शामिल हैं। 
    छ: ककारों का ज्ञान
    चूंकि अधिकतर लोग मीडिया की मुख्य धारा में ही शामिल होना चाहते हैं और आज युवाओं की रुचि मिडिया पर आने की है, इसलिए छ: ककारों यानी क्या, कहां, कब, कौन, क्यों और कैसे का ज्ञान होना और उनका सही इस्तेमाल करना आना चाहिए, ताकि वह अपने लेखन यानी स्क्रिप्टिंग में, वाचन में, रिपोर्टिग में, पैकेज में इनका उपयोग कर समाचार अथवा अपनी रिपोर्ट को और अधिक विश्वसनीय और प्रामाणिक बना सके।
    सत्यनिष्ठा और ईमानदारी

    मीडिया जनता की आवाज होता है और मीडिया को हर भ्रष्टाचार से मुक्त रहना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि इसमें काम करने वाले लोग वेतन से अधिक नैतिक मूल्यों पर बल दें और ईमानदारी से कार्य करें। इसके अलावा निष्पक्षता भी बहुत जरूरी है। मीडिया से जुड़े हर व्यक्ति को पूर्ण रूप से निष्पक्ष रहना चाहिए।

    ये भी पढ़े :बिहार के सीतामढ़ी में मौत की बारिश,एक परिवार के माँ समेत दो बच्ची का मौत ,देखे वीडियो

    समाचार बोध
    एक अच्छे पत्रकार में मनोवैज्ञानिक, वकील, कुशल लेखक, वक्ता और गुप्तचर के गुणों का समावेश होना चाहिए। तभी वह एक घटना में समाचार का बोध कर उसे जनता के समक्ष ला पाता है। इसके अतिरिक्त उसे दूरदर्शी भी होना चाहिए, तभी वह यह समझ पाएगा कि किस खबर का लोगों, समाज और देश पर क्या प्रभाव पड़ेगा।
    काजल कुमारी द्वारा किया गया पोस्ट 


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad