Header Ads

  • BREAKING NEWS

    साऊथ दिल्ली के संगम विहार के लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर ,दिनेश जयसवाल

    We News24 Hindi » नई दिल्ली,संगम विहार 
    संवाददाता किशन सिंह वोहरा की रिपोर्ट 

    नई दिल्ली : संगम विहार दिल्ली की सबसे बड़ी अनाधिकृत व् पिछड़ी कालोनी में से एक है यंहा 10 से 15 लाख लोग रहते है इस कालोनी की दयनीय एवं अमानवीय दुर्दशा है | इस कालोनी के लिए  AAP विधायक दिनेश मोहानिया ने  पिछले 5  सालो में कुछ नहीं किया  समस्या इतनी बड़ी है की रतिया मार्ग और मंगल बाज़ार की मुख्य सड़कों पर सीवर का गन्दा पानी भरे होने से लोगो का  व्यापार  ठप्प है |  साथ ही  स्कूली बच्चों को उसी गंदे पानी से होकर गुजरकर पड़ता है | लोगो को अपने कामो और नौकरी पर समय से नहीं पहुच पते है | कभी कभी बच्चों के और राहगीरों के गिरने की घटनाएं भी देखने मिलती है |चारो तरफ कूड़ा कचड़ा  फैला हुआ है प्रदुषण  उच्चतम स्तर पर है  नागरिकों बड़ी  समस्यां का सामना करना पड़ता है। 

    आज  इन्ही समस्या को लेकर लोगो का आक्रोश फुट परा और संगम विहार शिव शक्ति व्यपार संघ के तत्वाधान में आप विधायक दिनेश मोहनिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के  खिलाफ जन आक्रोश मार्च निकाला जिसमे लोगो ने दिनेश मोहनिया हाय-हाय दिनेश मोहनिया मुर्दाबाद केजरीवाल हाय-हाय के नारे लगाये | 

    दिनेश जयसवाल

    जन आक्रोश मार्च के संबंध We News 24 एडिटर एंड चीफ दीपक कुमार ने शिव शक्ति व्यपार संघ प्रधान दिनेश जयसवाल से जानने को कोशिश की तो दिनेश जयसवाल ने कहा की यंहा का स्थानीय विधायक दिनेश मोहनिया सिर्फ लोगो को लोलीपोप देने के अलावा कोई काम नहीं किया है | सिर्फ प्रोपगेंडा फ़ैलाने के आलावा कुछ नहीं किया है विधायक दिनेश मोहनिया सोशल मिडिया पर पर ये दिखा रहे है की उन्होंने संगम विहार को स्वर्ग बना दिया है उनका दावा सिर्फ झूठ है  हकीकत कुछ और ही  है आज भी संगम विहार की स्तिथि नर्क जैसी है | 

    देखे कैसे लोगो के गाड़ी फंस गया 

    आज भी संगम विहार के लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर है | चलने के लिए रोड नहीं है जो भी है उस रोड पर पानी भरने से लोगों को आवागमन में भारी परेशानी होती है लोगों का चलना दूभर है। इतना ही नहीं, यहां पर नाला भी जगह-जगह से खुला पड़ा है। जिससे दुर्घटना होने की आशंका रहती  है। लोगों के लिए फुटपाथ पर भी चलने की जगह तक नहीं बची है। सड़क पर बने गड्ढे के वजह अक्सर आने जाने वाले को चोट लगती है। जगह-जगह बने गड्ढों के कारण अक्सर वाहन भी बीच सड़क पर बंद हो जाते हैं। वहीं, बाइक व स्कूटी इनमें फंस जाती हैं। उन्हें निकालने में समय लगता है जिससे यहां जाम की समस्या खड़ी हो जाती है। 


    ये भी पढ़े :इंसान की हैसियत कोई अपराधी नहीं मिटा सकता,डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे

    साथ ही दिनेश जयसवाल ने ये भी कहा की  इस त्योहारी सीजन में दुकानदार हाथ पे हाथ धर कर बैठे है यंहा के दुकानदारो को रोटी के लाले पर गए है लोग अपने घर से दुकान का किराया भर रहे है नौबत यंहा तक आ गयी है की दुकानदार अपना दुकान बंद करने को सोंच रहे  है वजह  यंहा चलने को रास्ता नहीं है लोगो के दुकान के आगे गड्ढा खुदा हुआ है जिसमे नाले का बदबूदार पानी बहता है ग्राहक दुकान तक नहीं आ पाते  है जब ग्राहक ही नहीं आएगा तो व्यापर कैसे चलेगा क्या दिनेश मोहनिया या  केजरीवाल सरकार इन दुकानदारो के हुए नुकसान का मुआवजा देगी 

    प्रियंका जयसवाल द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad