Header Ads

  • BREAKING NEWS

    बिहार में मूसलाधार बारिश से जिंदगी ठप,पटना में हाई अलर्ट,रेस्क्यू कर बारिश में फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया

    We News 24 Hindi » पटना,बिहार
    ब्यूरो पटना/राज कुमार की रिपोर्ट 

    पटना:चार दिनों में देशभर में हुई भारी बारिश से जुड़ी घटनाओं में 120 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई, जिनमें सबसे ज्यादा मौतें उत्तर प्रदेश में हुईं। यहां गुरुवार से अब तक कम से कम 93 लोगों की मौत हो चुकी है।

     उधर, बिहार में करीब एक हफ्ते से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद जिंदगी ठप है। बारिश से जुड़े हादसों में मरने वालों की संख्या 29 तक पहुंच गई है। हजारों लोग सुरक्षित ठिकानों की तलाश में हैं। राजधानी पटना झील में तब्दील हो चुकी है। शहर के कई इलाकों में सड़कों पर 6 से 7 फुट तक पानी जमा है। लोग छतों पर ठिकाना बनाने को मजबूर हैं। यहां तक कि नीतीश सरकार में मंत्री प्रेम कुमार के आवास में भी पानी घुस गया। कोचिंग हब कहे जाने वाले राजेंद्रनगर में हॉस्टल में फंसीं सैकड़ों छात्राओं को रेस्क्यू किया गया है। वहीं, हजारों कोचिंग स्टूडेंट अब भी फंसे हुए हैं। एनडीआरएफ के साथ ही एसडीआरएफ की टीम राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई है। तो वही पटना जिलाधिकारी कुमार रवि ने खुद से ही जाकर हालत का जयजा  लिया और बारिश में फंसे लोगों को रेस्क्यू कर लोगो को सुरक्षित घर से बाहर निकाला 

    ये भी पढ़े :सीतामढ़ी :डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने स्वयं कई तटबंधों का किया निरीक्षण

    VIDEO:-


    अब तक 29 की मौत, एयर फोर्स से मांगी मदद
    राज्य में बारिश से जुड़े हादसों में मृतकों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन अथॉरिटी का कहना है, 'अब तक बारिश की वजह से राज्य में 29 लोगों की मौत हो चुकी है।' मौसम विभाग ने 14 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। हालांकि विभाग ने पूर्वानुमान लगाया है कि सोमवार को बारिश से थोड़ी राहत मिल सकती है। पटना और दरभंगा में मंगलवार तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद हैं। मौसम विभाग ने राज्य के 9 जिलों में ऑरेंज और 5 जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। बिहार सरकार ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों को एयरलिफ्ट करने और फूड पैकेट गिराने के लिए भारतीय वायुसेना से दो हेलिकॉप्टर की मांग की है। इसके साथ ही सरकार ने एयर फोर्स से पानी निकालने की मशीन भी मुहैया कराने की मांग की है।

    ये भी पढ़े :दिल्ली पुलिस ने अवैध तरीके से देश में रह रहे 230 विदेशी को पकड़ा

    बड़ी झील में तब्दील हुआ पटना शहर
    पटना में बदतर हालात हैं। पूरा शहर एक बड़ी झील में तब्दील हो गया है। राजेंद्र नगर और पाटलिपुत्र कॉलोनी जैसे निचले इलाकों में बाढ़ आ गई है। शहर के कई अस्पताल, दुकान, बाजार जलमग्न हो चुके हैं। यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। 

    लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। पटना के खगौल थाना इलाके के दानापुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी गेट के पास भारी बारिश के कारण सड़क किनारे एक पेड़ ऑटो रिक्शा पर गिर गया, जिससे उसमें सवार डेढ़ साल की एक बच्ची और तीन महिलाओं की मौत हो गयी।

    नालंदा में सात घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सकरी नदी के बीच टापू पर फंसे छह बच्चों की जान बचाई गई | भागलपुर में दीवार गिरने की घटनाओं में कम से कम 14 लोगों की मौत होने की जानकारी मिल रही है।


    अविनाश कुमार द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad