Header Ads

  • BREAKING NEWS

    बुलबुल ने पश्चिम बंगाल के तीन जिलों को किया तबाह

    We News 24 Hindi »पश्चिम बंगाल 

    कोलकाता: चक्रवाती तूफान बुलबुल ने पश्चिम बंगाल के तीन जिलों में ऐसा तांडव मचाया कि सात लोगों की मौत हो गई और 2.73 लाख लोग इसकी चपेट में आ गए. चक्रवात की तबाही से दक्षिण 24 परगना जिले के नामखाना इलाके में हतानिया दौनिया नदी पर बना एक ब्रिज धराशायी हो गया.

     इसके अलावा चक्रवाती तूफान से उत्तरी 24 परगना जिले के बशीरहाट उपमंडल में पांच मौतें हुई हैं, जबकि दक्षिणी 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिले में एक-एक मौत होने की खबर है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, दक्षिण-पूर्व बांग्लादेश और उससे सटे दक्षिण त्रिपुरा में आज सुबह 05:30 बजे गहरे विक्षोभ की स्थिति बन गई. चक्रवात बुलबुल अगले 6 घंटों के दौरान कम में कमजोर हो जाएगा.

     ये भी पढ़े :जम्मू कश्मीर में आंतकवादी और सुरक्षा बल मुठभेड़ में दो आतंकवादि ढेर

    आपदा प्रबंधन मंत्री जावेद खान ने कहा कि 2.73 लाख लोग प्रभावित हैं, जबकि 1.78 लाख लोग 471 राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं. बेघर हुए लोगों के भोजन के लिए राज्य सरकार 373 सामुदायिक रसोई चला रही है.

    यह भी पढ़ें:एक बार फिर जम्मू कश्मीर में आंतकवादी और सुरक्षा बल आमने सामने
    खान ने बताया कि 2,470 घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं. वहीं, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक ने बताया कि तूफान से बशीरहाट उपमंडल के गांव सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. इस उपमंडल में कम से कम 3,100 घर ध्वस्त हो गए हैं


    मल्लिक ने बशीरहाट के बुलबुल प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद रविवार को कहा कि संदेशखाली की बुरी हालत है. उन्होंने कहा, "खेतों में लगी फसलों की भारी बर्बादी हुई है. संकट से उबरने के लिए हम युद्धस्तर पर कार्य कर रहे हैं."

    ये भी पढ़े :उतराखंड :गंगोली हाट में आदमखोर बाघ का 06 साल की मासूम बना शिकार


    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सोमवार को दक्षिण 24 परगना जिले में नामखाना और बखाली के आसपास के इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगी. ये इलाके चक्रवाती तूफान बुलबुल से गंभीर रूप से प्रभावित हैं. ममता ने ट्विटर पर कहा कि तूफान के कारण उन्होंने आगामी सप्ताह में उत्तर बंगाल का अपना दौरा स्थगित करने का निर्णय लिया है.


    बनर्जी बाद में काकद्वीप में दक्षिण 24 परगना जिला प्रशासन के साथ तूफान प्रभावित लोगों के लिए राहत और पुनर्वास के किए गए उपायों की समीक्षा करेंगी.


    बुलबुल शनिवार रात 8.30 बजे से 11.30 बजे के बीच सुंदरबन धांची जंगल से लगे बंगाल तट से गुजरा, और उसने अपने पीछे उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिलों में भारी तबाही छोड़ गया. तूफान में अबतक सात लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें पांच बशीरहाट परगना में हुई मौतें शामिल हैं.

    अजित गोस्वामी द्वारा किया गया पोस्ट

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad