Header Ads

  • BREAKING NEWS

    पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के फ़िराक में

    We News 24 Hindi »नई दिल्ली
    ब्यूरो संवाददाता काजल कुमारी  की रिपोर्ट 

    नई दिल्ली: पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. इंटेलिजेंस एजेंसियों को यह जानकारी मिली है कि पाकिस्तान खालिस्तान समर्थतक तत्वों को भारत में आतंकी गतिविधियों  को अंजाम देने के लिए दवाब बना रहा है. 

    ये भी पढ़े :कर्नाटक के 17 बागी विधायकों ने फिर खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

    पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई  खालिस्तानी आतंकी संगठनों पर दवाब बना रही है. आईएसआई ने विदेश लिंक के जरिए भारत में अपने कॉन्टैक्ट्स से संपर्क साधा है.
    खुफिया जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान सिख धर्म पर एक सेमीनार आयोजित कर रहा है जिसे आईएसआई द्वारा समर्थित संगठन ही आयोजित कर रहे हैं. इस तरह आईएसआई समर्थित फोरम द्वारा भारत में कई लोगों को आमंत्रित किया गया है. भारत सरकार ने ऐसे समूहों के निमंत्रण और गतिविधियों पर नजर रखने के निर्दश दिए हैं. 

    ये भी पढ़े :देखे वीडियो कैसे तिस हजारी कोर्ट का वकील डीसीपी मोनिका भारद्वाज पर टूट परा

    इससे पहले 6 नंबर को  भारत ने पाकिस्तान द्वारा जारी किए गए करतारपुर कॉरिडोर के आधिकारिक प्रचार वीडियो में जरनैल सिंह भिंडरावाले सहित तीन सिख अलगाववादी नेताओं की मौजूदगी पर चिंता व्यक्त की थी और मुद्दे को पाकिस्तान के समक्ष उठाया था.

    ये भी पढ़े :जाने क्या है देवोत्थान एकादशी और तुलसी-शालिग्राम विवाह का महत्त्व



    वीडियो में सिख फॉर जस्टिस समूह के पोस्टर हैं जिनमें खालिस्तान की मांग करने वाले नेता भिंडरावाले और उसके सैन्य सलाहकार शबेग सिंह की तस्वीरें हैं जो 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान मारे गए थे। सिख फॉर जस्टिस एक प्रतिबंधित संगठन है, जो सिख रेफरेंडम 2020 के लिए जोर दे रहा है।


    यह वीडियो नौ नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन से पहले सोमवार (4 नवंबर) को जारी किया गया था। बता दें करतापुर कॉरिडोर का उद्घाटन 9 नवंबर को होने जा रहा है. यह कॉरिडोर पंजाब में डेरा बाबा नानक मंदिर को पाकिस्तान के करतारपुर गुरुद्वारे से जोड़ेगा, जहां गुरु नानक देव ने अपने अंतिम दिन बिताए थे।

    अजित गोस्वामी द्वारा किया गया पोस्ट 


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad