Header Ads

  • BREAKING NEWS

    भारतके नये नक़्शे को लेकर ,नेपाल में विरोध प्रदर्शन

    We News 24 Hindi »नईदिल्ली
    ब्यूरो संवाददाता अनिल कुमार की रिपोर्ट

    काठमांडू:जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद भारत ने एक नया नक्शा जारी किया है। जिसको लेकर नेपाल ने विरोध प्रदर्शन हो रहा है। नेपाल ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि उत्तराखंड के कालापानी और लिपुलेख उसके धारचूला जिले के हिस्से है। 

    ये भी पढ़े :महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के लिए शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस के बीच फॉर्मूला तैयार,पढ़े क्या है फॉर्मूला

    मानचित्र को लेकर नेपाल के एक प्रतिबंधित माओवादी संगठन ने प्रदर्शन किया है। जिसमें 20 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। इस संबंध में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि नेत्र बिक्रमचंद बिप्लव की अगुवाई वाले एक माओवादी धड़े नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े विद्यार्थियों को मैतीघर इलाके से गिरफ्तार किया गया।


    बता दें कि पिछले हफ्ते भारत सरकार ने नए बनाए गए केंद्र शासित प्रदेशों के नक्शे जारी किए थे। नए नक्शे में पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर, जम्मू-कश्मीर के नए बने केंद्र शासित प्रदेश का हिस्सा है। जबकि गिलगित-बाल्टिस्तान केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में है।


    वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि दोनों देशों के बीच सीमा विवाद को सुलझाने के लिए विदेश सचिवों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ऐसे में बातचीत के जरिये नेपाल से मतभेद को सुलझा लिया जाएगा।

    नेपाल ने कहा है कि संबंधित क्षेत्र को लेकर भारत से बात जारी है। वही कई वरिष्ठ राजनीतिक नेताओं ने प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा से आग्रह किया है कि वह भारत पर इस मुद्दे पर बात करें। क्योंकि यह मुद्दा अभी अनसुलझा है।

    दिव्यांश राणे द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad