Header Ads

  • BREAKING NEWS

    JHARKHAND:महिला के सुरक्षा लिए जारी किया गया शक्ति एप्प,जाने कैसे काम करेगा शक्ति एप्प

    We News 24 Hindi » रांची,धनवाद
    संवाददाता योगेन्द्र साह    

    झारखण्ड : धनबाद पुलिस महानिदेशक ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला हेल्पलाइन नंबर और शक्ति एप्प  है. महिलाओं की सुरक्षा के लिए झारखण्ड पुलिस की तकनीकी शाखा ने शक्ति एप को बनाया है. एप को गुगल प्ले स्टोर से एंड्रॉयड स्मार्टफोन फोन पर डाउनलोड किया जा सकता है. शक्ति एप में सुरक्षा के सूझाव भी दिए गए हैं. साथ ही इसमें इमरजेंसी कॉन्टेक्ट नंबर भी सेव किया जा सकता है. इसमें एक हेल्प बटन भी उपलब्ध है.


    ये भी पढ़े -RANCHI:लालू प्रसाद यादव को एक और मामले में रांची सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया

    आपातकालीन स्थिति में हेल्प बटन दबाने से सीधे पुलिस कंट्रोल रूम से संपर्क किया जा सकता है. शक्ति एप का संचालन करने के लिए मोबाइल फोन का जीपीएस नेविगेशन प्रणाली और मोबाइल डाटा ऑन होना चाहिए. इस मौके पर महानिदेशक ने शक्ति एप के साथ लोगों की सुरक्षा के लिए महिला हेल्पलाइन नंबर 9771432103, बच्चो के लिए हेल्पलाइन नंबर 8877444444 और डायल 100 तथा डायल 112 भी जारी किया गया है.
    झारखण्ड पुलिस द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला हेल्पलाइन नंबर और शक्ति एप्प जारी 

    ये भी पढ़े -DELHI:विधान सभा चुनाव 2020 आज कोंग्रेस और BJP कर सकती है उम्मीदवारों के नाम की घोषणा,AAP ने पहले ने पहले कर दी घोषणा

    क्या है शक्ति एप
    महिलाओं की सुरक्षा व बचाव के लिए झारखंड पुलिस की एक पहल है ‘शक्ति’. यह एक एंड्रॉयड (Android) आधारित मोबाइल एप्लीकेशन है, इस एप्लीकेशन की मदद से महिलाएं किसी भी आपात स्थिति में सीधे पुलिस नियंत्रण कक्ष तथा साथ ही उनके रिश्तेदारों/दोस्तों के मोबाइल फोन पर मुसीबत में होने की सूचना भेज सकती है.
    सबसे पहले अपने एंड्रॉयड मोबाइल फोन में इस एप्प को डाउनलोड व इनस्टॉल करें. फिर, अपने नाम, मोबाइल नंबर तथा कम से कम तीन रिश्तेदारों/मित्रों के नाम व मोबाइल नंबर पंजीकृत करें.

     ये भी पढ़े -SHIMLA:कार गहरी खाई में गिरने से किशोरी की मौत,चार गम्भीर रूप से घायल

    पंजीकृत यूजर अपने मोबाइल फोन की होम स्क्रीन पर मौजूद ‘हेल्प’ बटन को स्पर्श कर अलर्ट भेज सकेगी. जैसे ही ‘हेल्प’ बटन स्पर्श किया जायेगा ठीक उसी समय पुलिस नियंत्रण कक्ष के साथ ही उनके रिश्तेदारों / दोस्तों के लिए एक अलर्ट सन्देश भेज दिया जाएगा.
    इस एप्लीकेशन और सेवा का उपयोग केवल संकट के समय ही किया जाना है. झूठी रिपोर्टिंग और किसी भी तरह के दुरुपयोग करने पर कानून के तहत दंडनीय होगा.

    कोमल कुमारी द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad