Header Ads


  • BREAKING NEWS

    बिहार सरकार का वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम करदाताओं के लिए सुनहरा अवसर, नब्बे प्रतिशत तक की छूट

    We News 24 Hindi»बिहार/राज्य 
    सीतामढ़ी /ब्यूरो/संवाददाता
    अवध बिहारी उपाध्याय के साथ पवन साह की रिपोर्ट

    सीतामढ़ी :जीएसटी से पूर्व चल रही टैक्स प्रणाली वैट के पुराने मामलों के निस्तारण के लिए बिहार सरकार द्वारा लाई गई वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम के रूप में सुनहरा अवसर करदाताओं के समक्ष है। वाणिज्य कर विभाग, सीतामढ़ी जिले के वरीय पदाधिकारी राज्य कर संयुक्त आयुक्त जफीर आलम ने वैट के पुराने मामलों के निस्तारण के लिए बिहार सरकार की वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम के बारे में बताते हुए कहा कि इस स्कीम में नब्बे प्रतिशत तक की छूट है और वैट के मामलों से जुड़े व्यवसायियों को फायदा ही फायदा है।

    ये भी पढ़े-Chennai: DMK सांसद ने कहा टीवी मीडिया हाउसेज और पत्रकार मुंबई रेड लाइट एरिया के जैसे है इनका मकसद सिर्फ पैसा कमाना है

     इस स्कीम का फायदा पहुंचाने के लिए विभाग द्वारा लगातार जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। संयुक्त आयुक्त जफीर आलम ने यह भी बताया कि इसके लिए सीतामढ़ी विभाग की टीम सीतामढ़ी के शहर के अलावा प्रखंडों में भी जाकर करदाता को वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम में शामिल होकर कम टैक्स देकर वैट के पुराने मामलों से छुटकारा पाने के सुनहरा अवसर की जानकारी दे रही है। 

    शहर के व्यवसायियों को जागरूक करने के दौरान राज्य कर सहायक आयुक्त विवेकानन्द राय ने बताया कि यह स्कीम हर प्रकार से करदाताओं को राहत पहुंचाने वाली है। इस योजना में सभी प्रकार के ब्याज एवं फाइन के बकाए पर 90 प्रतिशत की माफ़ी है, निर्धारित कर के बकाये में 65 प्रतिशत की माफ़ी है, केन्द्रीय प्रपत्रों के मामले में यदि ऐसे सभी प्रपत्र प्राप्त हो गए हैं तो शत प्रतिशत माफ़ी है। 

    ये भी पढ़े-आगरा लखनऊ एक्स्प्रेसवे बन गया मौत का एक्स्प्रेसवे ,दिल्ली से बिहार जा रही बिहार राज्य निगम की वॉल्वो बस ने फॉर्च्यूनर कार में मारी जोरदार टक्कर, 6 की मौत

    राज्य कर सहायक आयुक्त विवेकानन्द जी ने बताया कि यदि बकाए के मद में पूर्व से कोई राशि जमा है तो समाधान की राशि उस सीमा तक कम हो जाएगी साथ ही कहा कि इस योजना में 25 मार्च 2020 तक आवेदन कर सकते हैं। इस अवसर पर उपस्थित सीतामढ़ी चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स के सचिव राजेश कुमार सुन्दरका ने कहा कि सही में यह योजना उपहारों की पोटली है, अब करदाता बिना किसी झंझट के काम करना चाहते हैं और यह स्कीम मानसिक तनाव को कम करने के साथ कर का आर्थिक बोझ भी कम करेगी। 

    ये भी पढ़े-Sitamarhi:कुख्यात अपराधी मुक्का,पहाड़ी के भाई इंदल गैंगवार में मारा गया,देखे वीडियो

    सुन्दरका ने बताया कि राज्य संयुक्त आयुक्त जफीर आलम के नेतृत्व में राज्य कर उपायुक्त महन्थ बैठा, राज्य कर सहायक आयुक्त विवेकानन्द राय, राज्य कर सहायक आयुक्त रोहित दुबे, राज्य कर सहायक आयुक्त हर्षराज आनन्द, राज्य कर सहायक आयुक्त संजीवानन्द एवं राज्य कर सहायक आयुक्त रवि रंजन राज लगातार करदाताओं से सम्पर्क के अलावा ऑफिस में भी उनकी समस्याओं का समाधान कर रहे हैं। 
    - राजेश कुमार सुन्दरका, सचिव, सीतामढ़ी चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad