Header Ads


  • BREAKING NEWS

    कन्‍हैया कुमार और उनके समर्थकों ने युवक को लात-घूंसे से मारा देखे वीडियो

    We News 24 Hindi »बिहार/राज्य
    सुपौल /ब्यूरो संवाददाता ललित भगत 

    सुपौल: ANI। बिहार में जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्यालय छात्रसंघ (JNU) छात्र संघ के पूर्व अध्‍यक्ष व भाकपा नेता कन्‍हैया कुमार के काफिले पर बुधवार की शाम में भीड़ ने हमला कर दिया है। हमला सुपौल में किया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से कहा गया है कि लोगों ने कन्‍हैया पर पथराव किया। इसमें कन्‍हैया घायल हो गए हैं, जबकि उनका वाहन भी क्षतिग्रस्‍त हो गया है। उधर, सुपौल में एक युवक ने कन्‍हैया पर मारपीट का आरोप लगाया है। कहा कि हमें कन्‍हैया व उनके समर्थकों ने लात-घूंसे से मारा है। 

    हमले में कन्‍हैया घायल: एएनआई

    बताया जाता है कि काफिले में शामिल दो अन्‍य लोग भी घायल हुए हैं। घायलों में एक ड्राइवर भी शामिल है। दो वाहनों के शीशे भी फूट गए हैं। बताया जाता है कि इस बाबत दो लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। बता दें कि इसके पहले आज ही झंझारपुर में भारतीय कन्‍यूनिष्‍ट पार्टी के नेता (CPI Leader) कन्‍हैया के काफिले को काला झंडा दिखाया गया था। झंझारपुर के बाद कन्‍हैया कुमार सुपौल पहुंचे थे। 

    जानकारी के अनुसार, सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ जन-मन यात्रा के तहत संघर्ष माेर्चा द्वारा आयोजित सभा में शामिल होने आ रहे कन्हैया कुमार को सुपौल में जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ा। जैसे ही कन्हैया का काफिला मल्लिक चौक पर पहुंचा, सैकड़ों की संख्या में उपस्थित युवाओं ने कन्हैया के विरोध में जमकर नारेबाजी की। इसी क्रम में काफिले की गाड़ियों पर युवकों ने पथराव भी कर दिया। इस पथराव में काफिले में शामिल दो वाहनों के शीशे टूट गए। घायलों में एक ड्राइवर के घायल होने की सूचना है। प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद कन्हैया कुमार को सभा में जाने की अनुमति नहीं दी गई और काफिले को सहरसा की ओर रवाना कर दिया गया। वहीं, समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से कहा गया है कि हमले की इस घटना में कन्‍हैया भी जख्‍मी हुए हैं।

    समर्थकों में नाराजगी

    उधर, बताया जाता है कि इस घटना को लेकर कनहैया के समर्थकों में काफी नाराजगी है। दरअसल, आज ही सुपौल के पहले झंझारपुर में कन्‍हैया कुमार के काफिले को काला झंडा दिखाया गया था। साथ ही उनके खिलाफ लोगों ने नारेबाजी की। इतना ही नहीं, सोमवार को सारण में उनके काफिले को काला झंडा दिखा गया था। बता दें कि 26 जनवरी से वामदलों की ओर से जन गण यात्रा शुरू की गई है। यह यात्रा सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में निकाली गई है और इसका नेतृत्‍व कन्‍हैया कुमार कर रहे हैं। 


    कन्‍हैया पर भी मारपीट का आरोप
    वहीं, सुपौल के युवक दिवाकर कुमार ने कन्‍हैया पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्‍होंने कहा कि उनके साथ कन्‍हैया कुमार ने मारपीट की। उनके मारने के बाद उनके समर्थकों ने भी हमें लात-घूंसाें से मारा। उन्‍होंने यह भी कहा कि हम भीड़ देखकर कन्‍हैया को देखने गए कि वे लोग हमें मारने-पीटने लगे। दिवाकर कुमार का वीडियो भी वायरल हो रहा है। 

    बिहार के सुपौल में बुधवार को कन्‍हैया कुमार को जबरदस्‍त विरोध का सामना करना पड़ा। इस दौरान वहां मौजूद एक स्‍थानीय वयवसायी ने कन्‍हैया के खिलाफ मारपीट व मोबाइल छीनने के आरोप लगाए हैं।









    Post Top Ad

    Post Bottom Ad