Header Ads


  • BREAKING NEWS

    LUCKNOW :विश्व हिंदू महासभा अध्यक्ष को अपराधियों ने दिनदहाड़े सिर में गोली मारी

    We News 24 Hindi »लखनऊ,उत्तर प्रदेश  

    राज्य/लखनऊ/ब्यूरो संवाददाता नागमणि

    लखनऊ : इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है. विश्व हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष को अपराधियों ने मर्डर कर दिया है. मौके से हत्या के आरोपी फरार हो गए हैं. क्रिमिनलों ने सिर में गोली मारी है. मौके पर कई राउंड ताबड़तोड़ फायरिंग की गई है.

    ये भी पढ़े-Muzaffarpur :कन्हैया कुमार ने जागो-जगाओ, देश बचाओ यात्रा में कहा,मोदी सरकार झूठे वादों वाली



    वारदात उत्तर प्रदेश के लख़नऊ का है. जहां हजरतगंज में विश्व हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रंजीत बच्चन की गोली मारकर हत्या कर दी गयी है. इस हत्या से उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पर एक बार फिर सवाल खड़ा हो गया है. मिली जानकारी के मुताबिक हत्या तब की गई जब वह टहलने गए थे. अपराधियों ने प्रदेश अध्यक्ष रंजीत बच्चन की सिर में गोली मारी है.

    दरअसल, रंजीत बच्चन सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे. तभी बाइक सवार बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया और ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं. गोली लगने के कारण रंजीत की मौत हो गई. रंजीत की CDRI के पास गोली मारकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया. दिनदहाड़े घटी इस घटना से इलाके में सनसनी मच गई है. इस हमले में रंजीत के भाई को भी गोली लगी है. रंजीत के भाई को हाथ में गोली लगी, जिसके कारण उनका भाई घायल हो गया है. घायल हालात में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

    यह भी पढ़ें-Patna:बजाज के सर्विस सेन्टर मे 29 फ़रवरी तक इंजिन ओवेर्हाल केम्प का आयोजन

    रंजीत गोरखपुर के रहने वाले थे और यहां ओसीआर बिल्डिंग के बी-ब्लाक में रहते थे. इससे पहले रंजीत समाजवादी पार्टी के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम किया करते थे. वहीं मौके से हत्या के आरोपी फरार हो गए हैं. पुलिस की 6 टीम और क्राइम ब्रांच हत्यारे को पकड़ने के लिए जुट गई हैं. मामले में डीसीपी सेंट्रल दिनेश सिंह का कहना है कि पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है. जल्दी ही आरोपियों को पकड़ा जाएगा.


    इससे पहले भी लखनऊ में हिंदू महासभा के पूर्व नेता कमलेश तिवारी को भी दिनदहाड़े हत्या कर दी गई। उनकी हत्या लखनऊ के खुर्शीद बाग इलाके में उन्हीं के ऑफिस में गला रेतकर की गई। कमलेश तिवारी की हत्या ऐसे समय में की गई है, जब कुछ ही दिनों में सुप्रीम कोर्ट अयोध्या के राममंदिर केस में फैसला देने वाला है। 


    Post Top Ad

    Post Bottom Ad