Header Ads

  • BREAKING NEWS

    सायनाइड किलर के नाम से जाने वाले मोहन के हत्या करने के तरीके सुनकर रोंगटे खड़े हो जाएंगे,अबतक 20 महिलाओं की हत्या कर चूका है

    We News 24 Hindi »कर्नाटक/राज्य
    मेंगलुरु/ब्यूरो/ संवाददाता कृष्णा वासुदेवन 

    मेंगलुरु:कुख्यात सीरियल  'सायनाइड मोहन' के वारदात करने के तरीके को सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। वह महिलाओं को अपना शिकार बनाता था। मोहन पर हत्या के कुल 20 मामले दर्ज हैं। महिलाओं से दोस्ती करने के बाद उनके साथ दुष्कर्म करता था और सायनाइड खिलाकर उनकी हत्या कर देता था। इसलिए इस साइको किलर का नाम साइनाइड मोहन पड़ा गया। कोर्ट ने उसे हत्या के 19वें मामले में अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई है।

    यह भी पढ़ें-Chaina:कोरोनावायरस आम लोगो के साथ ईलाज करने वाले चिकत्सक का भी ले रही है जान ,मरने वालों की संख्या 2,004 हो गई

    वर्ष 2006 का यह मामला केरल के कासरगोड जिला निवासी एक 23 वर्षीय महिला की हत्या से जुड़ा है। मेंगलुरु (कर्नाटक) की अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश सईदुनिशा ने सोमवार को मोहन को उम्रकैद की सजा सुनाते हुए 25 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। जज ने कहा कि सजा की शुरुआत तब होगी, जब वह दूसरे मामलों में भी सजा काटना शुरू करेगा। बताते चलें कि इससे पहले उसे पांच मामलों में मौत की सजा और तीन मामलों में उम्रकैद हो चुकी है। हालांकि, बाद में दो मामलों में मौत की सजा उम्रकैद में तब्दील कर दी गई थी।


    हालिया मुकदमे में दाखिल आरोपपत्र के अनुसार, मोहन की महिला से उस वक्त मुलाकात हुई थी, जब वह मेंगलुरु स्थित एक फैक्ट्री में काम करने जा रही थी। महिला से दोस्ती करने और शादी का झांसा देने के बाद वह 3 जनवरी 2006 को उसे मैसुरु ले गया। वहां वह बस स्टैंड के पास महिला के साथ लॉज में रुका। सुबह उसने महिला से सारे गहने उतरवा लिए। इसके बाद दोनों बस स्टैंड गए।

    यह भी पढ़ें-पटना विश्वविद्यालय के राजनीति विज्ञान विभाग में स्वर्गीय प्रोफेसर बच्चू सिन्हा जी को दी गई श्रद्धांजलि

    वहां उसने महिला को गर्भनिरोधक बताते हुए एक कैप्सूल दिया और खाने को कहा। महिला बाथरूम में गई और उसे खाते ही गिर पड़ी। लोग उसे पास के अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कैप्सूल में सायनाइड भरा था। पहले की अन्य वारदातों की तरह मोहन लॉज लौटा और वहां से महिला के सारे गहने समेटकर फरार हो गया। मोहन को वर्ष 2009 में कर्नाटक के बंटवाल से गिरफ्तार किया गया था। तब उसने 20 महिलाओं की हत्या की बात स्वीकार की थी।

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad