Header Ads


  • BREAKING NEWS

    Muzaffarpur:नौ दिवसीय श्रीरामकथा की शुरुआत

    • नौ दिवसीय श्रीराम कथा की हुई शुरुआत
    • मिथिला मेरा समधीयाना : रामभद्राचार्य जी महाराज
    • मिथिला वालो को राम जी का कृतज्ञ होना ही चहईए : जगतगुरु

    We News 24 Hindi »मुजफ्फरपुर,बिहार 

    राज्य/मुजफ्फरपुर/ब्यूरो संवाददाता कुंदन कुमार 

    मुजफ्फरपुर: 2 फरवरी : बंदरा प्रखंड के मतलुपुर स्थित अति प्राचीन बाबा खगेश्वरनाथ महादेव मंदिर में जगतगुरु रामभद्राचार्य जी महाराज, चित्रकूट धाम द्वारा रविवार से नौ दिवसीय श्रीरामकथा की शुरुआत हुई। कथा शुरुआत से पहले बाल कलाकार आयुष्मान और अंशुमान ने स्वागत गान और छात्रा अंजलि ने मंगल गान प्रस्तुत किया। 

    ये भी पढ़े-Patna:बिहार में कानून नाम की कोई चीज नहीं हर दिन 50 मर्डर की घटनाएं,तेजस्वी का नितीश पर हमला

    जगतगुरु का स्वागत पूर्व कुलपति गोपाल जी त्रिवेदी, नवलकिशोर ठाकुर, मुखिया फेकू राम, मतलुपुर मुखिया पति अशोक कुमार आदि ने अंग वस्त्र और माल्यार्पण कर किया। प्रथम दिन की कथा में मुख्य यजमान भूपेंद्र सिंहा और कृष्णा सिंहा थे।

    ये भी पढ़े-ARWAL:नितीश कुमार के सुशाशन वाले राज्य में,दलित महिला के साथ गैंगरेप

    जगतगुरु ने मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए उनके छवि को अपने हृदय में उतारने की बात कही और मिथिला को अपना समधियाना बताते हुए कहा कि मिथिला वालो को राम जी का कृतज्ञ होना ही चाहिये। उन्होंने कहा कि बाबा खगेश्वरनाथ के प्रांगण में हमारी 1284 वी कथा है और मिथिला की धरती पर आकर परम आनंद की अनुभूति प्राप्त कर रहा हूं। कथा में संगीतज्ञ कलाकार बेहतरीन संगत कर भजन प्रस्तुति कर रहे थे।
    मौके पर बैद्यनाथ पाठक,रामकुमार त्रिवेदी, रामसकल कुमार,वीरचन्द्र ब्रह्मचारी, श्यामनन्दन ठाकुर, रमन त्रिवेदी समेत सैंकड़ों लोग उपस्थित थे।


    Post Top Ad

    Post Bottom Ad