Header Ads

  • BREAKING NEWS

    DELHI VIOLENCE:किसी भी सूरत में हिंसा फैलाने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा,दंगाइयों के खिलाफ होगा हत्‍या का केस दर्ज,दिल्ली पुलिस कमिश्‍नर

    We News 24 Hindi »दिल्ली/राज्य
    NCR/दिल्ली/ब्यूरो संवाददाता कविता चौधरी

    नई दिल्‍ली: दिल्‍ली में नए पुलिस कमिश्‍नर ने शनिवार को कार्यभार संभालते हुए एसएन श्रीवास्‍तव ने दिल्‍ली हिंसा के प्रति अपने तेवर से जता दिया है कि किसी भी सूरत में हिंसा फैलाने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा। उन्‍होंने अमूल्‍य पटनायक से कार्यभार लेते हुए कहा कि हम दंगाइयों के खिलाफ हत्‍या का केस दर्ज करेंगे।

    शांति और सद्भाव वापस लाना पहली प्राथमिकता

    नए पुलिस आयुक्‍त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि शहर में शांति और सांप्रदायिक सद्भाव वापस आए। दंगाइयों के खिलाफ हत्‍या का मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी हो रही है। इससे वह दोबारा ऐसा करने की हिम्मत न कर सकेंगे।



    यह भी पढ़ें-NATIONAL:भारतीय सेना ने पाकिस्तान की 4 चौकी किया तबाह

    शनिवार को रिटायर हुए अमूल्‍य पटनायक

    बता दें कि दिल्ली पुलिस के नए मुखिया वरिष्ठ आइपीएस सच्चिदानंद श्रीवास्तव एक मार्च से अपना कार्यभार संभाल लिया है। इसकी जानकारी गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को ही जारी कर दी थी। वर्तमान पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक शनिवार को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

    37 महीने का रहा अमूल्‍य पटनायक का कार्यकाल

    अमूल्‍य पटनायक का कार्यकाल करीब 37 महीने तक का रहा। पटनायक को दिल्‍ली चुनाव के कारण सेवा विस्‍तार दिया गया था क्‍योंकि उनका कार्यकाल 31 जनवरी तक ही था।अमूल्य पटनायक व एसएन श्रीवास्तव दोनों यूटी (संघीय क्षेत्र) कैडर के 1985 बैच के आइपीएस अफसर हैं।

    ये भी पढ़े-DELHI VIOLENCE::लोगों के दिलों में एक ही सवाल कौन है इशरत जहां जिसकी मौजूदगी में चली थीं गोलियां

    चर्चा का विषय बना सीधे आदेश जारी न करना

    इधर, एसएन श्रीवास्तव को आयुक्त बनाने संबंधी आदेश सीधे जारी न कर अतिरिक्त कार्यभार सौंपे जाने संबंधी आदेश शुक्रवार को महकमे में चर्चा का विषय रहा। माना जा रहा है कि श्रीवास्तव का डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग, सेंट्रल विजिलेंस व खूफिया विभाग से क्लीयरेंस में कुछ दिक्कत आने की वजह से उन्हें सीधे तौर पर आयुक्त की जिम्मेदारी नहीं सौंपी गई है।


    इधर, यमुनापार में नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर भड़की हिंसा के बाद पांचवें दिन कुछ प्रभावशील इलाकों की मार्केट खुलने लगी हैं। धीरे-धीरे उत्तर पूर्वी दिल्ली की मार्केट अपने पुराने मिजाज पर वापस लौटती दिख रही है। लोग भी डर को किनारे कर खरीदारी के लिए पहुंच रहे हैं। जल्द ही उत्तर पूर्वी दिल्ली की मार्केट में पहले की तरह रौनक देखने को मिलेगी। इसी क्रम में दयालपुर, मौजपुर, बाबरपुर सहित अन्य प्रभावशील इलाकों में मार्केट खुलने लगी है।

    ये भी पढ़े-NEW DELHI:हिंदू सेना की चेतावनी के बाद दिल्ली के शाहीन बाग में बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात

    हिंसा के दौरान दंगाइयों के डर से पिछले कई दिनों से मार्केट में दुकानें बंद हो गई थी। लोगों की समस्याओं व दुकानदारों का डर निकालने के लिए सभी प्रभावशील इलाकों में पुलिस ने शांति मार्च निकाला। कुछ प्रभावशील इलाकों में कुछ मार्केट खुलने लगी है, लोग भी खरीदारी के लिए दुकानों पर पहुंच रहे हैं। जैसे-जैसे दुकानदारों का डर निकल रहा है वैसे-वैसे दुकानों की रौनक भी लौटने लगी है। अर्धसैनिक बल भी मार्केट में पूरी तरह तैनात हैं। चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जा रही है।

    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad