Header Ads

  • BREAKING NEWS

    Corona virus Alert:कोरोना वायरस को लेकर एक अच्छी खबर,बेंगलुरु के डॉक्टर ने खोज निकाला कोरोनो वायरस का उपचार,देखे वीडियो

    We News 24 Hindi »कोरोना राष्ट्रिय न्यूज अपडेट

    बेंगलुरु: दुनिया भर में तबाही मचाने वाले कोरोना वायरस (Coronavirus) ने भारत में भी तांडव मचा रखा है. भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान संक्रमण के 114 नए मामले सामने आए हैं. अब तक 17 की मौत हो चुकी है जबकि 808 संक्रमित हैं. दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस के लिए टीका (वैक्सीन) विकसित करने में लगे हुए हैं. इस बीच बेंगलुरु के एक डॉक्टर ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोना का प्रभावी उपचार खोज निकाला है. 

    ये भी पढ़े-Corona virus Alert:देश में एक दिन में कोरोना संक्रमण के 125 नए मामले ,चार लोगों की मौत ,संक्रमितों की संख्या 800 को पार गई

    समाचार एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, बेंगलुरु के ऑन्कोलॉजिस्ट विशाल राव ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोनो वायरस के लिए उपचार विकसित किया है. उनका दावा है कि ये उपचार इस सप्ताह के अंत तक परीक्षण के लिए तैयार हो जाएगा


    ये भी पढ़े-Corona virus: पहली बार आई कोरोना वायरस की दुर्लभ तस्वीर ,ICMR के भारतीय वैज्ञानिकों ने ली तस्वीर



    डॉक्टर ने कहा ये उपचार व्यक्ति के इम्यून सिस्टम को रीट्रिगर करेगा जो Sars-Cov-2 वायरस के चलते प्रभावित हो जाता है. उन्होंने स्पष्ट किया कि ये दवा कोरोना वायरस की "वैक्सीन नहीं" है बल्कि ये मरीज के इम्यून सिस्टम को बढ़ाने का काम करेगाी जिससे मरीज का शरीर कोरोना वायरस से मजबूती से लड़ करे.


    उन्होंने कहा, ''हमने साइटोकिन्स (Cytokines) का निर्माण किया है जो कोविड-19 के रोगियों का इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए उन्हें इंजेक्शन के जरिए दिया जा सकता है. हम एक बहुत ही प्रारंभिक चरण में हैं. इस हफ्ते के अंत तक इसके पहले सेट के तैयार होने की उम्मीद है.''

    ये भी पढ़े-Coronavirus ifect:हटा:जामा मस्जिद में लॉक डाउन के वजह से जुमे की नमाज अदा नहीं की गई

    डॉक्टर राव ने कहा कि हमने संभावित उपचार की शीघ्र समीक्षा के लिए सरकार को एक आवेदन भी दिया है. 

    ये भी पढ़े-पटना के मलशालामी में युवा समाजसेवी ने की खाद सामग्री का किया वितरण


    %25E0%25A4%25B9%25E0%25A5%2588%25E0%25A4%25A1%25E0%25A4%25B0%2B%25E0%25A4%25B5%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%259C%25E0%25A5%258D%25E0%25A4%259E%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%25AA%25E0%25A4%25A8%2B

    बेंगलुरु के इस ऑन्कोलॉजिस्ट ने कहा कि मानव शरीर की कोशिकाएं वायरस को मारने के लिए इंटरफेरॉन केमिकल  छोड़ती हैं. Sars-Cov-2 से संक्रमित होने के बाद कोशिकाओं की ये प्रक्रिया बंद हो जाती है. जिससे इम्यून सिस्टम कमजोर पड़ने लगता है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 से लड़में में इंटरफेरॉन प्रभावी हैं.

    Header%2BAid

    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad