Header Ads


  • BREAKING NEWS

    MP Political Crisis:कोंग्रेस नेताओ की कोई जुगाड़ नहीं बचा पा रही है कमलनाथ के सरकार

    We News 24 Hindi »मध्यप्रदेश/राज्य
    भोपाल/ब्यूरो रिपोर्ट

    मध्य प्रदेश: कांग्रेस के सभी विधायक आज राजस्थान स्तिथ कुछ धर्मिक स्थलों के दर्शन के लिए सुबह 9 बजे अपने अपने रिसोर्ट से निकले है। मध्य प्रदेश के विधायकों को जयपुर के 2 आलीशान और काफी  मैहँगे रिसॉर्ट्स में रखा गया है जिसमे एक है ट्री हाउस रिसोर्ट और दूसरा ब्यूना विस्टा रिसोर्ट। 

    ये भी पढ़े-दिल्ली दंगा में नया खुलासा, आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के तार पीएफआई से जुड़े

    आपकोबताते चले की   मध्य प्रदेश कांग्रेस के कदावर नेता रहे ज्योतिरादित्य सिंदिया के इस्तीफे के साथ ही उनके खेमे के कुछ विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद से ही मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर संकट के बादल घिर गए जिससे अभी तक वो निकल नही पा रहे है। सिंदिया के भाजपा में शामिल होने के बाद  तो कमलनाथ सरकार की मुश्किलें और भी ज़्यादा बढ़ गयी है। पार्टी छोड़ कर गए विधायकों को वापिस लाने के सभी कोशिशें नाकाम साबित हो रही हैं। 

    ये भी पढ़े-DELHI:इस शख्स ने प्रधानमंत्री मोदी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की कामना

    आज जयपुर में रुके हुए सभी विधायकों को खाटू श्याम, बालाजी अथवा सालासर जैसे धार्मिक स्थलों के दर्शन के लिए ले जाया गया है और इनके साथ कांग्रेस के कुछ बड़े नेता भी साथ में गए हैं। बीते दिन से ही बैठकों का सिलसिला जारी है और सभी विधायकों को हिदायतें दी गयी हैं कि मध्य प्रदेश कांग्रेस के पार्टी छोड़ कर गए सभी विधायकों को किसी न किसी तरहं अपने अपने संपर्क के जरिये कांग्रेस पार्टी और कमलनाथ सरकार का साथ देने के लिए वापिस लाया जाए।

    हालांकि मद्यप्रदेश कांग्रेस के नेता दावा कर रहें हैं कि उनकी सरकार को कोई खतरा नही है और फ्लोर टेस्ट में वो बहुमत साबित हरे का दावा भी कर रहे हैं। लेकिन सूत्रों के अनुसार सिंदिया और बाकी विधायकों का जाना मानो मध्य्प्रदेश कांग्रेस को यह 440 वोल्ट झटके लगने जैसा है। इसलिए सभी पार्टी के साथ खड़े विधायकों को कांग्रेस के आला नेता राजस्थान ले आये तांकि इनमे से कोई पार्टी छोड़ भाजपा में शामिल न हो जाये। 

    ये भी पढ़े-Delhi violence:अंकित शर्मा हत्या में नया खुलासा, अंकित को 12 लोगो ने 400 वार मारा था चाकू

    पार्टी में मंत्री के पद पर रहे जीतू पटवारी बेंगलुरु में बुते दिन कांग्रेस पार्टी के नाराज़ विधायकों को वापिस लाने गए थे लेकिन उनकी यह कोशिश नाकाम रही एयर उस दौरान बेंगलुरु पुलिस के साथ उनकी झड़प के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया। हालांकि की कांग्रेस के कुछ बड़े नेता भाजपा कोसते हुए यह दावा जार रहे है की उनकी पार्टी को मध्यप्रदेश में कोई खतरा नही पर सूत्रों की माने तो कांग्रेस के आला नेता अपने ही विधायकों को वापिस लाने और उनका विश्वास जीत पाने में अभी तक असफल साबित हुए है।

    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad