Header Ads

  • BREAKING NEWS

    Maharashtra:उद्धव सरकार से BJP माँगा जवाब ,लॉकडाउन में वाधवान परिवार मुंबई से महाबलेश्वर कैसे पंहुचा

    We News 24 Hindi »महाराष्ट्र/मुंबई /ब्यूरो रिपोर्ट

    मुंबई:एक तरफ पुरे  देश में लॉकडाउन है और कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा हॉटस्पॉट वाला राज्य महाराष्ट्र है क्योकि देश में सबसे अधिक कोरोना के मामले यंही से आये है |पर इसी महाराष्ट्र में एक परिवार ऐसा है जो महाबलेश्वर में छुट्टी मन रहा है |और परिवार है चर्चित डीएचएफएल मामले से जुड़े कपिल वाधवान का जिसे पंचगनी पुलिस ने वाधवान समेत 22 लोगों को महाबलेश्वर से गिरफ्तार किया .

    अब इस मामले को लेकर महाराष्ट्र के विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी BJP ने उद्धव सरकार को सवालों के घेरे में लेना शुरू कर दिया है. दूसरी और महाराष्ट्र सरकार ने इस मामले में जांच की बात कहकर पल्ला झाड रही है .

    ये भी पढ़े -पटना डीएम ने बेगूसराय सीमा सील करने का दिया निर्देश

    महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कपिल और धीरज वाधवान समेत 22 लोगों को महाबलेश्वर पहुंचने पर सवाल उठाए हैं. देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया, 'महाराष्ट्र में शक्तिशाली और अमीर लोगों के लिए कोई लॉकडाउन नहीं है? पुलिस की आधिकारिक इजाजत से कोई महाबलेश्वर में छुट्टियां बिता सकता है. यह मुमकिन नहीं है कि एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी इस तरह की घोर गलती को अपने दम पर अंजाम दे.


    एक दूसरे ट्वीट में फडणवीस ने पूछा, 'यह किसके आदेश या आशीर्वाद से हुआ था? सीएम और गृह मंत्री को स्पष्टीकरण देना चाहिए.


    वहीं बीजेपी नेता किरीट सौमेया ने भी इस मामले को लेकर महाराष्ट्र सरकार को घेरा. किरीट सौमेया नेता का आरोप है कि लॉकडाउन के बीच वाधवान परिवार मुंबई से महाबलेश्वर कैसे पहुंच गया, क्या सरकार येस बैंक के आरोपियों को VVIP ट्रीटमेंट दे रही थी. उन्होंने इस मामले में महाराष्ट्र के राज्यपाल को हस्तक्षेप करने की अपील की है.

    ये भी पढ़े-करोना संकट के लिए केंद्र सरकार जिम्मेवार:- जीतन राम मांझी

    वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि इस मामले की जांच की जाएगी. उन्होंने ट्वीट किया, 'वाधवान परिवार के 23 सदस्य महाबलेश्वर तक कैसे पहुंचे इसकी जांच होगी.


    पुलिस कर रही है जांच
    फिलहाल पुलिस महाबलेश्वर से वाधवान परिवार के इन लोगों को लेकर पंचगनी के बेल एयर अस्पताल पहुंची है. पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है कि अगर इन लोगों ने लॉकडाउन का नियम तोड़ा होगा, तो इनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा.
    वहीं इस बीच एक पत्र सामने आया है जिसमें महाराष्ट्र सरकार के गृह विभाग के विशेष सचिव और एडिशनल डीजीपी अमिताभ गुप्ता ने अपने आधिकारिक पत्र पर वाधवा परिवार के सदस्यों को खंडाला से महाबलेश्वर जाने की इजाजत दी है.




    कई मामलों में आरोपी वाधवान बंधु
    दरअसल, डीएचएफएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक कपिल वाधवान  गैर-कार्यकारी निदेशक धीरज वाधवान के खिलाफ पहले से एक अन्य मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच चल रही है, जिसमें कपिल वाधवान को ईडी ने गिरफ्तार भी किया था. लेकिन फिलहाल वह जमानत पर बाहर हैं. वहीं YES बैंक फर्जीवाड़े मामले में राणा कपूर के खिलाफ जांच चल रही है, इसमें भी मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के दायरे में अब वाधवान बंधु भी ईडी और सीबीआई के रडार पर हैं.

    ये भी पढ़े-VIDEOलॉकडाउन के दौरान सितामढी शहर का हाल, शहर वीरान, नियम तोड़ने वालों से पुलिस करा रही उठक-बैठक,देखे वीडियो


    पिछले महीने ईडी के बुलावे पर नहीं पहुंचे थे
    गौरतलब है कि पिछले महीने ईडी ने वाधवान बंधुओं को यस बैंक मामले में पूछताछ के लिए समन किया था. तब कपिल वाधवान ने ईडी को भेजे जवाब में कहा था कि 'मैं स्वास्थ्य परेशानियों से गुजर रहा हूं. कोरोना वायरस महामारी और मेरी उम्र के चलते मेरी पहले से खराब सेहत को अधिक जोखिम है. इसलिए मेरे लिए मुंबई की यात्रा करना मुश्किल है.' उनके भाई धीरज वाधवान ने भी कुछ इसी तरह का पत्र ईडी को

    वीडियो देखने के लिए यंहा क्लिक करे :

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad