Header Ads

  • BREAKING NEWS

    Coronavirus:निजामुद्दीन तबलीगी मरकज के जमातियो से कांपा पश्चिम उत्तर प्रदेश

    We News 24 Hindi »उत्तर प्रदेश /राज्य
    मेरठ/ब्यूरो संवाददाता राज कुमार चौहान 

    उत्तर प्रदेश: के 15 शहरों हुआ कोरोना हॉट स्पॉट इन सभी शहर को सील कर दिया गया हैं, इनमें पश्चिम यूपी के छह जिले हैं। पश्चिम यूपी में फिलहाल 11 देश और 20 से ज्यादा राज्यों के जमाती ठहरे हुए हैं जिनकी तालुकात निजामुद्दीन मरकज से है ये लोग अपने साथ कोरोना वायरस लेकर आए। गनीमत है की निजामुद्दीन मरकज पर दिल्ली प्रसासनका  शिकंजा कसते ही दूसरे राज्यों  में भी जमातियों के स्वास्थ्य की परिक्षण शुरू हो गई, वरना इनसे कितने लोगों में कोरोना का संक्रमण फ़ैल जाता , इसका कल्पना करना भी मुश्किल था।

    ये भी पढ़े-Coronavirus:दिल्ली में मास्क लगाना हुआअनिवार्य,नहीं माने नियम तो होगी करवाई

    अकेले  मेरठ में ही  सूडान, कीनिया, जिबूती, इंडोनेशिया और नेपाल के 20 विदेशी जमाती ठहरे हुए  हैं। इनके अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, झारखंड, असम, मणिपुर, वेस्ट बंगाल, आंध्र प्रदेश आदि राज्यों के 400 से ज्यादा जमाती मौजूद हैं | जो फिलहाल क्वारंटीन में हैं। यहां ज्यादातर जमातें 21 और 22 मार्च को आया, लेकिन पुलिस और खुफिया एजेंसियों को कोई भनक तक नहीं लगी। 27 मार्च के आसपास निजामुद्दीन मरकज पर शिकंजा कसा गया। इसके बाद उत्तर प्रदेश के शहरों में जमातियों की तलाश अभियान शुरू हुई। मेरठ पुलिस की ज्यादातर कार्रवाई 29 व 30 मार्च को हुई। बड़ी संख्या में मस्जिदों से जमाती क्वारंटीन किए गए। अब धीरे-धीरे इनके कोरोना सैंपल की रिपोर्ट आ रही है। मेरठ में अभी तक 17 जमातियों को कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। बड़ी संख्या में जमातियों के सैंपल की रिपोर्ट  अभी नहीं आ पायी  है।

    ये भी पढ़े-Coronavirusदिल्ली में जहां भी मिलेगा कोरोना संक्रमित,वो ईलाका होगा सील

    मुजफ्फरनगर में सबसे ज्यादा जमाती
    बिजनौर में इंडोनेशिया, नेपाल, अंडमान, पोर्टब्लेयर समेत कई राज्यों से आए 232 जमाती क्वारंटीन हैं। बिजनौर का एक जमाती कानपुर में पॉजिटिव पाया गया है। 40 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। हापुड़ में थाईलैंड के नौ सहित 32 जमाती आए। वेस्ट यूपी में सबसे ज्यादा जमाती मुजफ्फरनगर में 410 आए हैं। अच्छी बात यह है कि अभी तक एक को भी कोरोना की पुष्टि नहीं हुई। सिर्फ मुजफ्फरनगर और नोएडा जिले ही ऐसे हैं, जहां कोरोना पॉजीटिव जमातियों की संख्या शून्य है। जहां पॉजिटिव जमातियों की संख्या ज्यादा है, उनमें मेरठ, सहारनपुर, शामली, गाजियाबाद, बुलंदशहर और हापुड़ हैं।


    इन देशों से आए जमाती 
    बांग्लादेश, इंडोनेशिया, नेपाल, सूडान, कीनिया, जिबूती, थाईलैंड, अंडमान, पोर्ट ब्लेयर, किर्गिस्तान, कजाकिस्तान से बड़ी संख्या में जमाती वेस्ट यूपी के जनपदों में आए हैं। इसके अलावा उप्र, बिहार, झारखंड, मध्यप्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, वेस्ट बंगाल, आंध्र प्रदेश, केरल, मणिपुर, त्रिपुरा, पंजाब, महाराष्ट्र, असम आदि राज्यों के जमाती बड़ी संख्या में मौजूद हैं।

    ये भी पढ़े-Coronavirus :दक्षिण दिल्ली के निगम पार्षद के पति बेटी और सास में कोरोना पॉजिटिव,सभी लोग तब्लीगी मरकज जमात में शामिल हुए थे

    मरकज से मस्जिद तक
    पुलिस और स्वास्थ्य विभाग ने माना है कि ज्यादातर जमातियों को कोरोना संक्रमण निजामुद्दीन मरकज में पहुंचने के बाद हुआ। इसलिए ट्रेवल हिस्ट्री मरकज से रवाना होने से लेकर संबंधित जिले में मस्जिद पहुंचने तक खंगाली जा रही है। ट्रैवल हिस्ट्री में अब वह पार्ट हटा दिया गया है कि जमाती निजामुद्दीन मरकज तक कैसे पहुंचा।कहां 

    इन जगहों पर कितने जमाती आए

    जनपद
    मेरठ 391
    मुजफ्फरनगर 410
    हापुड़ 32
    बागपत 249
    सहारनपुर 339
    बुलंदशहर 255
    बिजनौर 446
    दिल्ली निजामुद्दीन मरकज से ज्यादातर जमाती 18 से 21 मार्च के बीच मेरठ जोन के जनपदों में आ गए। खुफिया सूत्रों से पता चलने पर पुलिस ने मस्जिदों में पहुंचकर इनके क्वारंटीन करने की कार्रवाई शुरू की। जमातियों के स्वास्थ्य की लगातार जांच चल रही है - प्रशांत कुमार, एडीजी मेरठ जोन

    वीडियो देखने के लिए यंहा क्लिक करे :

    Header%2BAid

    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad