Haider Aid

  • Breaking News

    आपने सोचा की PM मोदी ने जान है तो जहान है के जगह जान भी, जहान भी क्यों कहा ,इन बातो में छिपा है आगे का फैसला

    We News 24 Hindi »दिल्ली/राज्य
    NCR/ब्यूरो संवाददाता अमित मेहलावत 

    नई दिल्ली : जानलेवा महामारी कोरोना वायरस (covid-19) से देश को उबारने में धैर्य के साथ बहुस्तरीय नेतृत्व प्रदान कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की प्राचीन अवधारणा वसुधैव कुटुम्बकम को पुन: प्रतिपादित करते हुए शनिवार को ‘जान है तो जहान है’ के स्थान पर नई कहावत पेश की कि ‘जान भी, जहान भी’ है। पीएम मोदी की इस नई कहावत के पीछे एक संदेश है कि देश की अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाना।

    ये भी पढ़े-दक्षिणी दिल्ली पार्षद के पति पर दर्ज महामारी एक्ट के तहत दर्ज हुआ FIR

    पीएम मोदी करेंगे संबोधित
    भारत में पिछले 24 घंटे से कोरोना संक्रमितों की संख्या में हुआ इजाफा बहुत बड़ी चिंता है। कई राज्यों ने कोरोना की गंभीरता को देखते हुए लॉकडाउन को बढ़ाकर 30 अप्रैल तक कर दिया है।  शनिवार को राज्यों के बीच इस बात को लेकर सहमति भी बन गई। हालांकि पीएम मोदी अभी इस पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे और आगे क्यो होगा इसके बारे में जानकारी देंगे। उम्मीद है कि अगले एक-दो दिनाें में पीएम मोदी इसका ऐलान करेंगे लेकिन उससे पहले ही राज्यों में लॉकडाउन बढ़ाने की होड़ लग गई। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, महाराष्ट्र और ओडिशा समेत 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ाने की जोरदार पैरवी की।

    लॉकडाउन में आगे मिल सकती है ढील
    सूत्रों का कहना है कि तीन हफ्ते बाद जिस तरह से प्रधानमंत्री मोदी ने ‘जान है तो जहान है’ को जान भी और जहान भी में बदल दिया, उससे पता चलता है कि इसी संदेश में उनकी आगे की रणनीति छिपी है। मसलन, अब सरकार का फोकस जान बचाने के साथ ही लॉकडाउन के कारण ठंडे पड़ चुके उन कल-कारखानों और सरकारी और निजी दफ्तरों की तरफ है। यानि कि लॉकडाउन में इन दफ्तरों को कुछ शर्तों के आधार पर खुलने की छूट मिल सकती है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बीते शुक्रवार को एमएसएमई मंत्रालय के अफसरों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में भी मीटिंग लेकर उन्हें कार्य  योजना बनाने का निर्देश दिया था कि कैसे लॉकडाउन के दौरान भी सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को जारी रखा जा सकता है। सरकार कोरोना से बचने की हिदायतों, उपकरणों के साथ सोशल डिस्टैंसिंग के साथ  फैक्ट्रियों आदि को खोलने की अनुमति दे सकती है।

    ये भी पढ़े-PMO का आदेश आज से केंद्र सरकार के सभी मंत्रि अपने कार्यालय में जाकर काम करे

    केन्द्रीय मंत्रियों को कार्यालय पहुंचने के आदेश
    लॉकडाउन के मद्देनजर ठप्प पड़े देश को फिर से पटरी पर लाने के उद्देश्य से सरकार ने निर्णय लिया है कि सभी केन्द्रीय मंत्री सोमवार से अपने कार्यालयों में आकर काम करेंगे और उनके साथ-साथ मंत्रालयों तथा विभागों के उच्च अधिकारी भी कार्यालयों में आएंगे।

    वीडियो देखने के लिए यंहा क्लिक करे :

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।


    Post Top Ad

    Post Bottom Ad