Haider Aid

  • Breaking News

    Jharkhand: कोरोना के नाम पर स्वास्थ्य कर्मी और अधिकारियो का अमानवीय व्यवहार ,गर्भवती को नहीं मिली एम्बुलेंस

    We News 24 Hindi »झारखण्ड/राज्य
    रांची/ब्यूरो रिपोर्ट

    झारखण्ड : राज्य से एक खबर आ रही जो जो सरकार की दावे की पोल खोलती है रांची से तक़रीबन  40 किलोमीटर दूर बुंडू थाना क्षेत्र के ताऊ गांव में एक गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाने के लिए शनिवार को एंबुलेंस नहीं मिला। महिला के परिजनों ने एम्बुलेंस के लिए जगह-जगह गुहार लगाईं फिर भी एम्बुलेंस नहीं मिला |

    ये भी पढ़े-PATNA:बड़ी खबर :विशेष ट्रेन राजस्थान से 1174 बिहारी श्रमिकों को लेकर दानापुर पहुंची

    ताऊ गांव निवासी प्रकाश चंद्र महतो की गर्भवती पत्नी अंबिका देवी की डिलीवरी डेट होने के वजह से परिजनों ने एंबुलेंस के लिए कई जगह गुहार लगायी, लेकिन उनकी गुहार नहीं सुनी गयी।आपको  बता दें कि बुंडू के ताऊ गांव में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद पूरे गांव को सील कर दिया गया है। इसी क्रम में शनिवार को जब अंबिका देवी के परिजनों ने सरकार की ओर से जारी सुविधा 108 पर फोन कर एंबुलेंस के लिए गुहार लगायी।

    ये भी पढ़े-बालू माफिया देने वाले थे हिरण की मीट पार्टी,ग्रामीणों ने हिरण रास्ते मे पकड़ किया पुलिस के हवाले

    लेकिन, कॉल रिसीव करनेवाले ने पूछा कि कोविड-19 की जांच करवाये हैं। इस पर परिजनों ने कहा कि सोनाहातु में जांच करा लेंगे। इस पर उधर से कहा गया कि कोविड-19 की जांच होने पर ही अस्पताल ले जायेंगे। कोई पर्सनल उपाय कीजिये। कोरोना किसमें है, यह थोड़ी पता चलेगा। पहले जांच करायें, उसके बाद ही एंबुलेंस लेकर आयेंगे।

    ये भी पढ़े-विक्रम विधायक ने कहा कि सरकार भोज के समय कोहरा रोपती है,ऐसा वो राशन वितरण के समय बोले

    इसके बाद परिजनों ने बुंडू थाना प्रभारी से फोन कर सहयोग मांगा। इस पर थाना प्रभारी ने कहा कि बीडीओ या एसडीओ से बात कर लें। इसमें हमलोग क्या कर सकते हैं। इसके बाद परिजन थक-हारकर गर्भवती महिला को बाइक पर बैठाकर सोनाहातु अस्पताल ले गये। ग्रामीणों ने बताया कि ताऊ गांव को पांच दिनों से बांस-बल्ली लगाकर घेरा गया है। इससे गांव के लोगों की परेशानी बढ़ गयी है। खाने की भी तकलीफ हो रही है। लोगों ने सरकार से गुहार लगायी कि उन्हें खाने पीने का सामान और जरूरत की सुविधाएं मुहैया करायी जायें।

    गौर करने वाली बात है की अगर गाँव में कुछ लोग कोरोना पोजेटिव है तो इसकी सजा सभी को देंगे क्या ऐसे ही होते है कोरोना वोरियर्स ऐसे अधकारी पर तुरंत कार्यवाही होनी चाहिए ?

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad