Haider Aid

  • Breaking News

    ममता बैनर्जी को कोरोना संक्रमण के मामलों को छुपाना पड़ा मंहगा , बंगाल में 24 घंटे के अन्दर 98 मौत


    We News 24 Hindi »दिल्ली/राज्य
    NCR/ब्यूरो संवाददाता अनिकेत की रिपोर्ट

    नई दिल्ली: ममता बैनर्जी  सरकार को कोरोना संक्रमण के मामलों को छुपाना अब  पड़ रहा है भारीव् .क्योंकि बीते 24 घंटे में देश में कोरोना संक्रमण से हुई 195 मौतों में से  98 मौत सिर्फ पश्चिम बंगाल में हुई हैं. बता दें कि कुछ दिन पहले ही केंद्र की टीमों को निरीक्षण करने से बंगाल में स्थानीय प्रशासन ने रोक दिया था. 

    ये भी पढ़े-ममता बैनर्जी को कोरोना संक्रमण के मामलों को छुपाना पड़ मंहगा , बंगाल में 24 घंटे के अन्दर 98 मौत

    आंकड़ों के मुताबिक देशभर में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 3900 नए मामले सामने आए हैं. जिनमें से 1567 केवल महाराष्ट्र से हैं. यानी देश के 2 राज्यों ने संक्रमण के लिहाज से देश के लिए बड़ी चुनौती खड़ी कर कर दी. यदि बीते 24 घंटे में देशभर के राज्यों का आकलन करें तो सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले 6 राज्यों में सामने आए हैं इनमें महाराष्ट्र सबसे टॉप पर है. 

    ये भी पढ़े-केजरीवाल सरकार कोरोना टेक्स के नाम पर जनता को लुटने की तैयारी ,शराब के बाद बढाई पेट्रोल डीजल के दाम

    पिछले 24 घंटों के आंकड़े
    • - महाराष्ट्र में 1567 नए मामले 
    • - तमिलनाडु में 527 नए मामले
    • - गुजरात में 376 नए मामले
    • - दिल्ली में 349 नए मामले
    • - पश्चिम बंगाल में 296 नए मामले
    • - राजस्थान में 175 नए मामले


    यानी बीते 24 घंटे इन 6 राज्यों में कोरोना के 3290 नए मामले सामने आए हैं. इसी के साथ मौतों के आंकड़ों को देखें तो पश्चिम बंगाल इसमें सबसे टॉप पर है. बीते 24 घंटे में कोरोना से देश में 195 लोगों की मौतें हुई हैं इनमें से 98 सिर्फ और सिर्फ बंगाल में ही हुईं.बंगाल के अलावा जिन दूसरे राज्यों में एक दिन में सबसे ज्यादा कोरोना मरीजों की डेथ हुई है उनमें से महाराष्ट्र में 35, गुजरात में 29, मध्यप्रदेश में 9, उत्तर प्रदेश में 7 और राजस्थान में 6 मौतें हुई हैं. 



    यानी देश के यह राज्य ऐसे हैं जिनमें संक्रमण के मरीजों की सबसे ज्यादा डेथ हुई उनमें से 90 फीसदी मरीज इन्हीं राज्यों से हैं. बीते 3 दिनों में देश में कोरोना संक्रमण के 10,000 से ज्यादा मामले आ चुके हैं और मौतों का आंकड़ा भी उसी सफ्तार से बढ़ रहा है. अभी तक देश में हालात कंट्रोल में थे लेकिन जिस तरह से स्थितियां तेजी से बदल रही हैं उसको देखकर मुश्किल स्थिति का अंदेशा ज्यादा हो रहा है .

    ये भी पढ़े-हैदराबाद:जरूरतमंदो के खाली प्लेटों को भरने की है असली जरूरत : रेखा व्यालपल्ली

    इस महीने की शुरुआत में यानी 1 मई को देश में संक्रमण के मामले 35043 ही थे. जबकि मौतों की संख्या 1147 थी. 5 मई को संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 46 हजार को पार कर गया है जबकि 1568 मरीजों की जान जा चुकी है. 

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad