Haider Aid

  • Breaking News

    अमेरिका ने लगाया चीन पर कोरोना वैक्सीन का डेटा चुराने का आरोप



    We
     News 24 Hindi »नई दिल्ली 
    गौरव कुमार की रिपोर्ट

    नई दिल्ली :  कोरोना वायरस का जन्मदाता चीन का वुहान शहर जंहा से पूरी दुनिया में कोरोना का   कहर फैला  और सबसे ज्यादा तबाहीअमेरिका में हुआ है,इसको लेकर चीन और अमेरिका आमने सामने है और एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप भी जारी है | 

    ये भी पढ़े-बिहार में मई तक बढ सकता है लॉकडाउन, ट्रेनों के परिचालन पर रोक लगाने की मांग

    अभी का ताजा आरोप अमेरिका ने चीन पर  लगया है की हैकर्स के द्वारा से जुड़े रिसर्च डेटा चुराने की कोशिश की है | ये दावा  द वॉल स्ट्रीट जर्नल और न्यूयॉर्क टाइम्स ने किया है , अमेरिका की जांच एजेंसी फेडरल ब्‍यूरो ऑफ इनवेस्टिगेशन (एफबीआई) और होमलैंड सिक्योरिटी विभाग ने आरोप लगाया है कि चीनी हैकर्स और जासूस कोरोना वायरस के लिए वैक्‍सीन से जुड़ी रिसर्च डेटा चुराने की कोशिश में लगे हुए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अब वे चीनी हैकिंग को लेकर एक चेतावनी जारी करने पर विचार कर रहे हैं। 

    ये भी पढ़े-  जल्द पूरी आजादी से घुमने फिरने का मिलेगा मौका ,सरकार बना रही है योजना

    रिपोर्ट में कहा गया है कि हैकर्स कोरोना पर रिसर्च संबंधी डेटा चुराने की कोशिश कर रहे हैं। यही वजह है कि ये हैकर्स कोविड-19 के उपचार और परीक्षण पर सूचना और इंटेलेक्चुअल प्रोपर्टी को भी निशाना बना रहे हैं। पिछले सप्ताह एक संयुक्त संदेश में ब्रिटेन और अमेरिका ने संगठित अपराधियों द्वारा किए गए स्वास्थ्य पेशेवरों के खिलाफ साइबर हमलों में वृद्धि को लेकर आगाह किया था।

    यह भी पढ़ें-कोरोना जाते-जाते भी जीवन भर का घांव देकर जायेगा ,ठीक होने बाद मरीजो को इन समस्या से ता उम्र जूझना पड़ेगा

    हालांकि, चीनी अधिकारियों ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा कि  कि हम कोविड-19 के उपचार और वैक्सीन की खोज में दुनिया का नेतृत्व कर रहे हैं। किसी भी साक्ष्य के अभाव में अफवाहों और अपशब्दों के साथ चीन को निशाना बनाना गलत है।

    ये भी पढ़े-VIDEO:सीतामढ़ी वार्ड नंबर 23 के पार्षद और नगर परिषद के शसक्त समिति के सदस्य,खोली नगर परिषद की पोल ,सुने उन्होंने क्या कहा

    एक अन्य विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाया है कि हमने उन्हें समय पर महामारी के बारे में सूचित नहीं किया लेकिन हमने बार-बार इस महामारी पर अपनी स्थिति बताई है। हालांकि, जब से अमेरिका इन झूठों को दोहरा रहा है हमें दुनिया को बार-बार तथ्यों के जरिए सच्चाई दिखाने के लिए प्रयास करना चाहिए। 

    Header%2BAid
    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad