Header Ads

  • BREAKING NEWS

    VIDEO:महामारी पर अंधविश्वास भारी बिहार-में लोगों ने कोरोना को बनाया देवी , महिलाएं पूजा करके चढ़ा रहीं लड्‌डू और लौंग


    करोना की पूजा करती महिलाये 


    We News 24 Hindi »बिहार/राज्य 

    बिहटा से रईस अहमद की रिपोर्ट।

    मनेर :कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में दहशत में जी रहा है । डर के कारण लोग कई तरह की सावधानी बरत रहे हैं। महामारी के इस दौर में कई तरह का अंधविश्वास भी जन्म लेने लगा  हैं।

     बिहार में महिलाओं ने कोरोना को देवी बना दिया और उसकी पूजा भी शुरू कर दी है। महिलाओं का मानना है कि कोरोना माता नाराज़ हो गयी हैं, उसकी  पूजा करेंगे तो  वापस चली जाएंगी। इससे पहले झारखंड के जमशेदपुर, गढ़वा यूपी के गाजीपुर और बलिया और बिहार के गोपालगंज,मुजफ्फरपुर और अब पटना जिले के मनेर से तस्वीरें सामने आई है ।  

    ये भी पढ़े-मुंबईकरों के लिए अच्छी खबर :मुंबई में दुकानें और बाजार सशर्त खोलने की अनुमति

     

    राजधानी पटना  से सटे मनेर गंगा नदी के किनारे  शुक्रवार को  गांव के  कुछ  महिलाओं का झुंड बना हुआ था । और ये लोग कोरोना को लेकर धरती को खोद कर  कोरोना माई की पूजा करने में लगी जुटी थी। पूजा करने के बाद सामग्री गड्‌ढे में दबा दी महिलाओं ने कोरोना माता को नौ लड्‌डू, नौ लौंग का भोग लगाया और कहा कि कोरोना माई नाराज हैं,इसलिए ही महामारी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। उन्हें प्रसन्न करने के लिए पूजा की जा रही है। ताकि उनका गुस्सा कम हो जाए और वे हम सब पर कृपा कर वापस चली जाएं।



    आपको बताते चले की वाट्सएप पर फैली थी यह अफ़वाह  अफ़वाह के वजह महिलाओं ने शुरू की पूजा दरअसल कोरोना माता की अफ़वाह सोशल मीडिया के जरिए फैलाई गई थी। लोगों ने वाट्सएप पर कुछ वीडियो शेयर किए थे। पूजा कर रही गुड़िया और सोनी देवी ने बताया कि कोरोना चेचक की तरह ही माता का रूप है।

    ये भी पढ़े-काम की खबर : जून महीने के आखिर तक कर ले ये काम नहीं तो होगी परेशानी

     


    पूजा-पाठ करने के बाद ये वापस चली जाएंगी। तो कही ये भी कहा जा रहा है गाय के रूप में प्रकट होकर खुद को कोरोना माई होने के बात कही  थी जिसे हम सब को बताया गया है,की कोरोनामाई की पूजा केवल  शुक्रवार को करनी होती है,जिसमें छोटे गड्ढे को बना कर पूजा के रूप लड्डू,औरुहूल फूल, मीठा के छाक चढ़ाने से करोना महामारी भाग जाएगी।

    ये भी पढ़े-मौसम की जानकारी :अगले सप्ताह मॉनसून के लिए अनुकूल ,अच्छी बारिश होने की संभावना

     

    अब आप खुद सोच सकते हैं कि कोरोना को लेकर इन महिलाओं में कितना अंधविश्वास कूट-कूट कर भरा  है |  बता दे कि ये अफ़वाह कोई  नया  नही ह इस से पहले बिहार के अन्य जिलों में  इसी तरह से महिलाये चकला पर बेलन खड़ा कर के पूजा कर कोरोना भगाने  में लगी हुई थी  । अब ऐसा लग रहा है कि कोरोना जैसे महामारी  पर अंधविश्वास  भारी पड़ता नजर आ रहा है आगे अनिता देवी और महिलाओ से सुने की वो ईस पूजा के बारे में क्या कह रही है 

    Header%2BAid

    Whats App पर न्यूज़Updatesपाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें। 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad