Haider Aid

  • Breaking News

    ममता ने कहा भारत जीत जाएगा,तानाशाह चीन हार जायेगा ,हम सरकार के साथ हैं




    We News 24 Hindi » पश्चिम बंगाल/राज्य

    कोलकाता से विष्णु पात्रा की रिपोर्ट।

    कोलकाता :लद्दाख की गलवान घाटी में चीन की सेना के साथ संघर्ष में 20 भारतीय जवानों की शहादत के बाद उपजे तनाव को लेकर शुक्रवार को केंद्र द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह राष्ट्र के लिए एक अच्छा संदेश है, जो ये दिखाता है कि हम अपने जवानों के पीछे एकजुट हैं।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में भाग लेते हुए ममता ने राजनीतिक मतभेद भुलाकर इस मुद्दे पर केंद्र को अपना पूरा समर्थन देने की बात कही।

    ये भी पढ़े-बिहटा के लाल शहीद सुनील कुमार की शवयात्रा में उमड़ा जल सैलाब, देखें वीडियो

    सूत्रों के अनुसार, बैठक में ममता ने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि किसी भी उद्योग में चीन की भारत में एंट्री को बैन कर देना चाहिए, फिर चाहे हमें थोड़ा नुकसान ही क्यों ना हो। उन्होंने कहा, 'चीन को किसी भी सूरत में भारत के दूरसंचार, रेलवे और उड्डयन (एविएशन) क्षेत्रों में प्रवेश की इजाज़त नहीं मिलनी चाहिए। इससे हमें कुछ दिक्कतें का सामना ज़रूर करना पड़ेगा, लेकिन हमें चीन को घुसने नहीं देना है।' ममता ने कहा, 'चीन में लोकतंत्र नहीं है। वे एक तानाशाही हैं। वे वही कर सकते हैं जो वे महसूस करते हैं। दूसरी ओर, हमें एक साथ काम करना होगा। भारत जीत जाएगा, चीन हार जाएगा। एकता के साथ बोलिए। एकता के साथ सोचें। एकता के साथ काम करें। हम सरकार के साथ हैं।'

    ये भी पढ़े-VIDEO:विष्णु पुराण धरावाहिक में कलवार कलवार,कलार,कलाल,समाज के अराध्य भगवान सहस्त्रार्जुन के चरित्र को विकृत एवम अपमानित किया है


    उल्लेखनीय है कि इससे पहले बुधवार को ममता ने केंद्र द्वारा सर्वदलीय बैठक बुलाने के फैसले का स्वागत किया था। उन्होंने उसी दौरान कहा था कि उनकी पार्टी इस मुद्दे पर केंद्र के साथ एकजुटता से खड़ी है और भारत सरकार तय करे कि वे इस मुद्दे पर किस तरह से निपटना चाहते हैं। वहीं, सर्वदलीय बैठक में माकपा के वरिष्ठ नेता मोहम्मद सलीम ने भी कहा कि यह समय पूरे देश को एकजुट होने की जरूरत है। 

    ये भी पढ़े-बड़ी खबर:ICSE बोर्ड स्कूलों में लॉकडाउन अवधि के दौरान ट्यूशन फ़ीस माफ़ करने से किया इंकार

    सीमा के मुद्दे पर राजनीतिक मतभेद आड़े नहीं आने चाहिए। इधर, जेडीयू चीफ़ और बिहार के सीएम नीतिश कुमार ने कहा, 'चीन के खिलाफ देशभर में गुस्सा है। हमारे बीच कोई मतभेद नहीं होना चाहिए। हम एक साथ हैं।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 7-लोक कल्याण मार्ग पर भारत-चीन सीमा स्थिति पर चर्चा के लिए सर्वदलीय वर्चुअल बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में 20 पार्टियों ने हिस्सा लिया।

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad