Header Ads

  • BREAKING NEWS

    भारतीय किसान संगठन ने गोपाल नेगी को हिमाचल की कमान सौंपी ,तीन राज्यों के अध्यक्षों की घोषणा




    We News 24 Hindi »हिमाचल प्रदेश/राज्य

    सोलन /रिपोर्टर सत्यदेव शर्मा सहोड़


    बददी (सोलन)। किसानों के लिए समर्पित भारतीय किसान संगठन की हिमाचल प्रदेश की कमान बरोटीवाला के अनुभवी किसान नेता व सामाजिक कार्यकर्ता गोपाल चंद नेगी को सौंपी गई है। आज दिल्ली से जारी प्रेस विज्ञप्ति में भारतीय किसान संगठन (पंजीकृत) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र यादव ने गोपाल चंद नेगी के नाम की घोषणा की। 

    ये भी पढ़े-राजधानी दिल्ली में दुनिया का सबसे बड़ा COVID सेंटर का हुआ उद्घाटन

    इसके अलावा कर्नाटक की कमान कालिदास जान्नला वहीं उडीसा प्रदेश का अध्यक्ष हरिशकंर पानी को बनाया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र यादव ने कहा कि पूरे भारत में किसानों की आवाज उठाने व बुलंद करने वाला यह देश का एकमात्र गैर राजनीतिक संगठन है। किसान हमारे देश के अन्नदाता है और आज वही सबसे ज्यादा संकट व त्रस्त है। पूरे भारत में संगठनात्मक ढांचा खडा करके किसानों के मुददों को मूर्तरुप दिया जाएगा चाहे उसके लिए कितना भी संघर्ष करना पडे।

    ये भी पढ़े-नेपाल में क्या होगा,ओली की कुर्सी बचेगी या जाएगी ,ओली-प्रचंड अपने रुख पर कायम

     नवनियुक्ति प्रदेशाध्यक्ष हिमाचल प्रांत गोपाल चंद नेगी ने कहा कि उनको राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पूरे प्रांत की जो अहम जिम्मेदारी सौंपी है उसको ईमानदारी व कर्तव्य निष्ठा से निभाया जाएगा। शीघ्र ही प्रांत के साथ साथ जिला व मंडल स्तर पर कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। उन्होने कहा कि आज के समय में किसानी व बागवानी घाटे का सौदा हो रहा है जिसके उत्थान के लिए सीएम जयराम ठाकुर व कृषि मंत्री रामलाल मारकंडे को मांग पत्र भेजा जाएगा। 

    ये भी पढ़े-कानपूर एनकाउंटर में नया खुलसा ,हत्यारा दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पहले से पता था पुलिस छापेमारी के बारे में,जुटा लिए थे हथियार और गुंडे



    नेगी ने कहा कि जहां तक हिमाचल प्रदेश की बात है कि उसमें प्रदेश के चार जिले सोलन, सिरमौर, कांगडा व ऊना बार्डर के साथ लगते हैं और यहां के किसानों को सबसे ज्यादा दिक्कतें कोविड में आ रही है। दोनो राज्यों में जमीनें होने के कारण वह आवाजाही नहीं कर पा रहे हैं। 


    इन समस्याओं को शीघ्र ही सीएम व कृषि मंत्री के पास उठाया जाएगा। इसके अलावा शीघ्र ही पूरे प्रदेश के किसानों की समस्याओं को एकत्रित किया जा रहा है। हमारे प्रदेश में 70 फीसदी आबाद कृषि व बागवानी पर आधारित है  लेकिन उनकी आवाज उठाने वाला कोई संगठन नहीं था।

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad