Header Ads

  • BREAKING NEWS

    कानपूर एनकाउंटर में नया खुलसा ,हत्यारा दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पहले से पता था पुलिस छापेमारी के बारे में,जुटा लिए थे हथियार और गुंडे




    We News 24 Hindi » उत्तर प्रदेश /राज्य 

    कानपूर से योगेश मोर्य की रिपोर्ट


    कानपुर :एनकाउंटर में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों के मामले में एक के बाद एक नए खुलासे होते जा रहे हैं। विकास दुबे का गिरफ्तार साथी दयाशंकर अग्निहोत्री के नए-नए राज उगल रहा है। दया शंकर ने बताया कि विकास को साढ़े पांच घंटे पहले ही पुलिस की तैयारियों के बारे में पता चल गया था। किसी ने फोन करके इसकी सूचना दी थी। इसके बाद विकास ने अपनी पूरी तैयारी कर ली। उसने हथियार जुटाने के साथ-साथ अपने कई साथियों को भी बुला लिया था।  

    ये भी पढ़े-असदुद्दीन ओवैसी ने योगी पर निशाना साधते हुए कहा ठोक देंगे' पॉलिसी कानपुर एनकाउंटर का जिम्मेदार है


    बता दें कि आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने में शामिल शातिर दयाशंकर आज सुबह पुलिस के साथ एनकाउंटर में घायल हो गया। कानपुर में कल्याणपुर के पास पुलिस मुठभेड़ में दयाशंकर के पैर में गोली लगी। दयाशंकर विकास दुबे का खास गुर्गा है। दयाशंकर ने बतया कि विकास ने फोन पर कहा था, आज कोई जिंदा नही जाएगा। 


    विकास दुबे का एक और साथी पुलिस हिरासत में

     पुलिस ने विकास दुबे के एक और साथी को उठाया है। हालांकि पुलिस अधिकारी इस पर कुछ बोलने को तैयार नहीं है। लेकिन सूत्रों के अनुसार विकास के इस साथी की राजनीतिक पहुंच है। 

    ये भी पढ़े-सीतामढ़ी, प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक ने वर्षों से लंबित वेतन नहीं मिलने पर आत्महत्या करने की कोशिश की, खून से लिखा मुर्दाबाद,भ्रष्टाचार


    विकास के माता-पिता ने पाला दयाशंकर को

     पुलिस से पूछताछ में उसने बताया कि उसके परिवार को दो बेटियां और पत्नी है। पत्नी का नाम रेखा दो बेटियां मुस्कान और महक है। पूछताछ के दौरान दयाशंकर ने बताया कि 3 साल की उम्र में ही उसके माता-पिता का निधन हो गया था,  जिसके बाद से उसे विकास दुबे के माता-पिता ने पाला और शादी विवाह कराया। वह उनके घर में रहकर खाना बनाने और पशुओं को चारा पानी करने का काम करता था। दयाशंकर ने बताया कि घटना के दिन चौबेपुर थाने से विकास के मोबाइल पर रात करीब 8:30 बजे एक फोन आया। 

    ये भी पढ़े-बड़ी खुशखबरी :अगले सप्ताह से बिहार में भी कोरोना वैक्सीन का ट्रायल शुरू होगा


    18 आरोपियों पर 25,000 का इनाम 

    घटना में शामिल विकास के गुर्गे श्यामू बाजपेई, छोटू शुक्ला ,जेसीबी चालक मोनू, जहान यादव, दयाशंकर अग्निहोत्री, शशिकांत, पंडित शिव तिवारी, विष्णु पाल, राम सिंह, राम बाजपेई, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा, गोपाल सैनी, वीरू भवन, शिवम दुबे, बालगोविंद और बउवा दुबे के खिलाफ 25,000 रुपये के इनाम की घोषणा की गई है। 

    ये भी पढ़े-सीतामढ़ी: परिहार प्रखंड की जर्जर सड़कों का जल्द होगा कायाकल्प : शम्स शाहनवाज


    विकास पर एक लाख का इनाम रखने की तैयारी 

    सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों का हत्यारोपी विकास दुबे के ऊपर एक लाख रुपये इनाम की घोषणा होगी। घटना के बाद आईजी रेंज ने उस पर 50,000 के इनाम की घोषणा की थी। शनिवार को एडीजी जोन जेएन सिंह के पास इसकी रिपोर्ट बनाकर इनाम की रकम एक लाख कर दिए जाने की संस्तुति की गई है। जिस पर एडीजी के हस्ताक्षर होने के साथ ही इनाम राशि बढ़ जाएगी।


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad