Header Ads

  • BREAKING NEWS

    Kanpur News :विकास दुबे का सम्राज्य बिकरू से बैंकोक तक ,ED कर सकता है जाँच



    We News 24 Hindi » उत्तर प्रदेश /राज्य/कानपूर 

    शेखर श्रीवास्तव   की रिपोर्ट


    लखनऊ : सामान्य आदमी अगर दो लाख रुपए अघोषित रूप से जमा कर दे तो आयकर विभाग का नोटिस पहुंच जाता है और छोटा सा जमीन का टुकड़ा बेचकर देखिए। बरसों बाद भी कैपिटल गेन का नोटिस आ जाएगा लेकिन विकास दुबे ने केवल एक बैंक खाते से करोड़ों रुपए का लेनदेन कर रहा था और आयकर विभाग को इसकी भनक तक   नहीं लगी ये बात गले नहीं उतर रही । कही न कही विकास दुबे की तार रसूख वाले लोगो से जुडती और उनका कच्चा चिटठा खोलती नजर आ रही है तभी तीन ड्रामेटिक एनकाउंटर हुआ क्या पता इस एनकाउंटर का रहस्य खुलेगा या नहीं ?

    ये भी पढ़े-Jammu Kashmir News:नौगाम सेक्टर में सेना ने घुसपैठ की कोशिश नाकाम किया ,दो आतंकवादियों को मार गिराया


    आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तारी के बाद जब यूपी पुलिस विकास दुबे को लेकर आ रही थी तो कानपुर में हुए एक्सीडेंट के बाद पुलिस ने उसे एनकाउंटर में मार गिराया।
    प्रवर्तन निदेशालय ने कानुपर पुलिस से गैंगस्टर विकास दुबे, उनके परिवार और करीबी सहयोगियों की चल-अचल संपत्ति का ब्यौरा मांगा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, विकास दुबे के एक सहयोगी ने दुबई और थाईलैंड में पेंटहाउस खरीदे थे जिसकी कीमत 30 करोड़ रुपए है। विकास दुबे ने पिछले तीन सालों में 14 देशों का यात्रा की। हाल ही में उसने लखनऊ में एक घर खरीदा है जिसकी कीमत 20 करोड़ रुपए से ऊपर है।

    ये भी पढ़े-International China Nepal News:नेपाल के PM ओली अपनी कुर्सी बचाने के लिए नेपाल में लगा सके है इमरजेंसी


    इसके अलावा कानपुर के अंदर ब्रह्मनगर में छह मकान, आर्यनगर के एक अपार्टमेंट में आठ फ्लैट और पनकी में एक ड्यूप्लैक्स कोठी की जानकारी मिल चुकी है। इनकी अनुमानित कीमत 28 करोड़ रुपए बताई जा रही है। विकास और उसके सहयोगी के बीच बैंक के जरिए लेनदेन के ठोस सबूत मिल चुके हैं। इसके बावजूद आयकर विभाग को खबर नहीं लगी जबकि प्रदेश में बेनामी विंग की शाखा केवल कानपुर में है।

    ये भी पढ़े-International China Nepal News:नेपाल के PM ओली अपनी कुर्सी बचाने के लिए नेपाल में लगा सके है इमरजेंसी


    ईडी ने 7 जुलाई को कानपुर पुलिस को दिए एक शासकीय सूचना में विकास दुबे, उनके परिवार के सदस्यों और सहयोगियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट, 2002 के प्रावधानों के तहत अचल और चल संपत्ति का विवरण एकत्र करने के निर्देश देने का आदेश दिया था। इसके अलावा ईडी ने इन सबके खिलाफ आपराधिक मामलों पर विवरण भी मांगा है।

    ये भी पढ़े-Sitamarhi Bihar News:सीतामढ़ी शहर के बदहाली के जिम्मेदार कौन अधिकारी या नेता ?देखे वीडियो

    गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह विकास दुबे पुलिस एनकाउंटर में मार गया। कानपुर के बिकरू गांव में 2 जुलाई को आठ पुलिसकर्मियों की हत्या मामले में विकास दुबे मुख्य आरोपी था। इस वारदात के बाद विकास दुबे पर 5 लाख का इनाम रखा गया था। पुलिस की माने तो उज्जैन से कानपुर लाते समय विकास दुबे ने भागने की कोशिश की। इस दौरान एनकाउंटर हुआ और वह मारा गया।


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad