Haider Aid


 

  • Breaking News

    सीतामढ़ी: शहर में बरसाती पानी से बाढ़ के हालात, कई मोहल्लों में नाव चलाने की नौबत,देखे वार्ड 21 की हालात



    We News 24 Hindi » बिहार/राज्य/सीतामढ़ी 

    रोहित ठाकुर  की रिपोर्ट 

    सीतामढ़ी: सीतामढ़ी अंदर बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। सड़कों पर कहीं घुटने भर पानी तो कहीं घरों में पानी घुस आया है। रिहायशी और व्यावसायिक इलाका भी पानी-पानी है। हर तरफ तबाही का आलम है। कोरोना संक्रमण के इस दौर में पानी के जरिये संक्रमण का खतरा और बढ़ सकता है। 

    ये भी पढ़े-Himachal News:29 जुलाई को प्रदेशाध्यक्ष का विधिवत कार्यभार संभालेंगे सुरेश कश्यप: त्रिलोक

     

    जिले में बाढ़ के लिए कौन है जिम्मेदार, लोकल प्रशासन राज्य सरकार, जनता या नेपाल से छोड़ा जाने वाला पानी ऐसा हम लिए कह रहे है की हर साल बाढ़ से झुझते जिले के जनता को समस्या से निजात दिलाएगा कौन ?

    ये भी पढ़े-Bihar flood: NDRF बिहार में बाढ़ राहत-राहत ऑपेरशन में मुस्तैदी से जुटी, 6600 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला

    आइये आज हम आपको  नगर परिषद के वार्ड नं 21 में लिए चलते है और आप खुद ही देखिये की कैसे पानी के बिच रहने को मजबूर है यंहा के लोग आपको बताते चले   पिछले 50 वर्षो से  बरसात के दिनों में जल जमाव की समस्या है। लोग अपनी हालात के सहारे जीने को विवश हैं।  कितनी शर्म कि बात है कि इतने सालो में कितने विधायक ,सांसद, वार्ड पार्षद आए और गए लेकिन इनकी समस्या वहीं है। कहने को तो सीतामढ़ी ODF जिला घोषित है पर इस वार्ड के नया टोला में एक सुलभ शौचालय के साथ किसी भी घर में भी शुचालय नहीं है .

    ये भी पढ़े-Muzaffarpur News:चौथा सोमवारी को फल-फूल और अक्षत से हुआ बाबा का महाश्रृंगार



    इस वार्ड के हजारो लोग रेलवे लाइन पर खुले में शौच करने को मजबूर हैं। और अभी हालत तो और भी दयनीय है क्योकि हर तरफ का इलाका जलमग्न हो चूका है जिससे लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है   . छोटे बच्चे भूख और प्यास से बिलख रहे है तो  उनके माँ बाप अपने तकदीर पर रो रहे हैं।


     पानी निकासी की कोई ब्यावस्था नहीं है, कोरोना महामारी के कारण पहले ही लोगो का जीना मुहाल हो चुका है। हर तरफ़ चीख पुकार मची है लोग इस उम्मीद में अपने घर में घुस कर बैठे हैं कि शायद कहीं से कोई अधिकारी सांसद ,विधायक या पार्षद के तरफ से मदद मिल जाए। लेकिन अभी तक ने इन लोगो की सुध लेने तक नहींआया .

    इनको  मदद के नाम पर मिला सिर्फ दिलासा मिलता है और दिलासा  इनका  भूख और प्यास नहीं मिटा सकता  है। सीतामढ़ी के तकरीबन सभी वार्ड में ऐसा  जल जमाव की समस्या है जिसकी सुध लेने वाला कोई नहीं। आपको बताते चले की नगर परिषद् ने जो लाखो की रूपये की चलन शौचालय की खरीद किया  हुआ है वो आज  सिर्फ शोभा की वस्तु बनी है क्यों इन लोगो को  नगर परिषद चलन शौचालय उपलब्ध नहीं करा रही है ?

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad