Haider Aid


 

  • Breaking News

    Mumbai:शिवसेना ने राजस्थान के CM अशोक गहलोत को दी चेतावनी,अमित शाह भले ही आइसालेशन में हैं लेकिन...



    We News 24 Hindi » महाराष्ट्र/राज्य/मुंबई

    अनिल पाटिल की रिपोर्ट।

    #Ram Mandir Bhoomi Pujan


    मुंंबई:अयोध्या में राम मंदिर के 'भूमि पूजन' समारोह के मद्देनजर पूरा देश उत्साहित और भक्तिमय है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मंदिर निर्माण कार्य का शुभारंभ करने से बेहतर कोई स्‍वर्णिम पल नहीं हो सकता.' यह बात शिवसेना ने मंगलवार को कही. शिवसेना ने अपने मुखपत्र 'सामना' के संपादकीय में कहा है, 'देश में COVID-19 संकट व्याप्त है, लेकिन यह भगवान शिव के आशीर्वाद से गायब हो जाएगा.'  बुधवार को उत्तर प्रदेश की अयोध्या नगरी में आयोजित होने वाला यह समारोह कुछ "फीका" होगा क्योंकि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह  इसमें शामिल नहीं हो पाएंगे.


    ये भी पढ़े-इस समय की बड़ी खबर ,अब होगी सुशांत मामले की CBI जांच,CM नीतीश कुमार ने की CBI जांच की सिफारिश


    गौरतलब है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को बताया था कि प्रारंभिक लक्षण दिखाने के बाद उन्‍होंने कोरोना टेस्‍ट कराया और इसमें वे पॉ‍जिटिव पाए गए हैं. शाह ने कहा था कि उनका स्वास्थ्य ठीक है और वह डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं. शिवसेना ने कहा कि यह उनके (अमित शाह के) शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना कर रही है. पार्टी ने, हालांकि इशारों-इशारों में निशाना साधते हुए कहा कि शाह क्‍वारंटाइन हैं, फिर भी राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार  पर संकट मंडरा रहा है. मुखपत्र 'सामना' ने दावा किया, "गहलोत के खुश होने का कोई कारण नहीं है कि अमित शाह अलग-थलग हैं क्योंकि भाजपा नेता 'राजनीतिक सर्जरी' करते हैं.

    ये भी पढ़े Sushant Singh Case: DGP ने कहा कि मुख्यमंत्री सुशांत सिंह राजपूत मामले की CBI जांच की सिफारिश करेंगे



    "शिवसेना ने कहा, "प्रधानमंत्री मोदी खुद अयोध्या जाकर 'भूमि पूजन' करेंगे."इसमें कहा गया है कि राम मंदिर निर्माण अभियान से जुड़े प्रमुख नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी, दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मंदिर निर्माण का गवाह बनेंगे. आडवाणी और जोशी को सलाह दी गई कि वे अपनी आयु और अयोध्या में COVID-19 के प्रकोप को देखते हुए समारोह में न जाएं. शिवसेना ने कहा कि अभियान से जुड़ी एक अन्य फायरब्रांड नेता उमा भारती, कोविड​​-19 के मद्देनजर इस समारोह में शामिल नहीं होंगी और सरयू के तट से समारोह देखेंगी.

    ये भी पढ़े-देश के तीन बड़े शहरों में कोरोना का कहर थमने की राह पर है,दिल्ली में 90%मरीज हुए ठीक


     

     पार्टी ने कहा है कि भूमि पूजन 'समारोह को देखते हुए देश उत्साहित है और देश के प्रधानमंत्री के लिए (मंदिर निर्माण के लिए) इससे बेहतर कोई दूसरा स्वर्णिम क्षण नहीं हो सकता.' पार्टी ने दावा किया कि कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ रहा है. यह अयोध्या, उत्तर प्रदेश और पूरे देश में फैल गया है. यह संकट, भगवान राम के आशीर्वाद से भी दूर हो जाएगा.

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad