Header Ads

  • BREAKING NEWS

    पाकिस्तान खोता जा रहा है इस्लामिक देश का भरोसा,सऊदी अरब ने वसूले पाकिस्तान से एक बिलियन अमेरिकी डॉलर


    We News 24 Hindi »इस्लामाबाद

    मिडिया रिपोर्ट 

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान  की ऊल जलूल हरकतों से तंग आकर आखिरकार सऊदी अरब  ने बड़ा कदम उठा लिया है. इसके तहत सऊदी अरब ने हाल ही में पाकिस्तान से एक बिलियन अमेरिकी डॉलर की वसूली की है, जो उसने डेढ़ साल पहले पाकिस्तान को बतौर कर्ज दिया था. पाकिस्तान के ऊपर सऊदी अरब का करीब तीन बिलियन डॉलर का कर्ज था, जिसे अब वो पाकिस्तान से वसूल रहा है.


    ये भी पढ़े-महाभारत का एक सच्चा नायक था वीर युयुत्सु,कौरव का भाई होते हुए भी उन्होंने युद्ध में पांड्वो का साथ दिया


    सऊदी अरब की ओर से उठाया कदम इस बात की तरफ इशारा करता है कि पाकिस्तान बेहद तेजी से मुस्लिम देशों का विश्वास खोता जा रहा है. इसी वजह से सऊदी अरब ने अपने लोन की रकम की वसूली शुरू कर दी है, जो उसने पाकिस्तान को दिए थे. सऊदी अरब ने पाकिस्तान को ये रकम उस समय दी थी, जब पाकिस्तान को विदेशी कर्ज भरने के लिए धन की बेहद सख्त जरूरत थी. 


    पाकिस्तान के अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने इस बारे में खबर छापी और लिखा है कि अब सऊदी अरब पाकिस्तान की मदद से अपने हाथ पीछे खींच रहा है. सऊदी अरब की तरफ से ये कदम ऐसे समय पर उठाया गया है, जब पाकिस्तान इस्लामिक देशों के समूह ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉपरेशन  में भारत के खिलाफ लामबंदी में जुटा है. पाकिस्तान पिछले एक साल से ओआईसी में भारत के खिलाफ जम्मू कश्मीर  राज्य से आर्टिकल 370 हटाने के खिलाफ समर्थन मांग रहा है, लेकिन उसे यहां जोरदार झटका लगा और कोई भी देश पाकिस्तान की मदद के लिए खड़ा नहीं हुआ.


    ये भी पढ़े-Sushant Case:मुंबई रिया के फ्लैट पर ईडी की टीम ने छापा मारा, रिया से 9 घंटे तक चली पूछताछ



    पाकिस्तानी अखबार डॉन में पाकिस्तान के राजनयिक सूत्र के हवाले से छपे लेख में लिखा है कि सऊदी अरब ने पाकिस्तान के उस अनुरोध को नकार दिया, जिसमें कश्मीर मुद्दे को आईओसी में उठाने का आग्रह किया गया था.


    पाकिस्तान को आईओसी में सपोर्ट न मिलने के बाद 22 मई को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान  ने कहा था कि इस्लामिक देशों में एकजुटता नहीं है. यहां तक कि हम आईओसी में कश्मीर मुद्दे तक को नहीं उठा सके.

    ये भी पढ़े-Corona vaccine :225 रुपए में लगेगा कोरोना का टीका, वैक्सीन

    एक तरफ पाकिस्तान जहां मुस्लिम देशों का भरोसा खोता जा रहा है, तो वहीं चीन उसकी मदद के नाम पर पूरा फायदा उठा रहा है और पाकिस्तान को आर्थिक मदद देने के नाम पर अपना आर्थिक उपनिवेश बना रहा है. सऊदी अरब के हाथ खींच लेने के बाद चीन ने पाकिस्तान को एक बिलियन डॉलर की न सिर्फ लोन के तौर पर मदद दी, बल्कि सीपीईसी  के तहत 6.5 बिलियन डॉलर का अतिरिक्त निवेश भी किया है. 

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad