Header Ads

  • BREAKING NEWS

    माँ वैष्णो देवी की यात्रा स्वतंत्रता दिवस के अगले दिन से शुरू होगी, आपको इन नियमों का पालन करना होगा



    We News 24 Hindi »जम्मू कश्मीर 

    देवेन्द्र सिंह  की रिपोर्ट 

    जम्मू: जम्मू और कश्मीर की धर्मनगरी में त्रिकुटा पर्वत में स्थित श्री माता वैष्णो देवी जी की पवित्र गुफा की यात्रा रविवार 16 अगस्त से फिर से शुरू होगी.आपको  बता दें कि कोरोना वायरस के मद्देनजर माता वैष्णो देवी तीर्थ यात्रा को 18 मार्च को निलंबित कर दिया गया था. श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश कुमार ने कहा कि तीर्थ यात्रा के फिर से शुरू होने के पहले सप्ताह में प्रतिदिन 2,000 तीर्थ यात्रियों की यात्रा होगी जिसमें जम्मू-कश्मीर के भीतर 1900 और बाहर से शेष 100 शामिल हैं.


    ये भी पढ़े-कोरोना काल में अलग होगा 15 अगस्‍त को PM मोदी का संबोधन,कर सकते हैं ये घोषणाएं


    वहीं राज्य की यात्रा शुरू कर स्थिति की समीक्षा की जाएगी और उसके अनुसार निर्णय किया जाएगा. यात्रा पंजीकरण काउंटरों पर व्यक्तियों का पंजीकरण नही होगा. तीर्थ यात्रियों को केवल ऑनलाइन मोड के माध्यम से पंजीकरण के बाद तीर्थयात्रा करने की अनुमति दी जाएगी. यात्रा पर आगे बढ़ने से पहले तीर्थयात्रियों को अपने मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप भी इंस्टॉल करना अनिवार्य होगा. तीर्थयात्रियों के लिए फेस मास्क, फेस कवर, पहनना भी अनिवार्य होगा. यात्रा प्रवेश बिंदुओं पर थर्मल इमेज स्कैनर्स के माध्यम से प्रत्येक यात्री को स्कैन किया जाएगा. वहीं 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, सह-रुग्णता वाले व्यक्तियों और 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को कोरोना महामारी में यात्रा से बचने की सलाह दी गई है. 

    ये भी पढ़े-लाल किले पर 15 अगस्त को प्रातः 7:30 बजे PM मोदी फहराएंगे तिरंगा ,जानें पूरा कार्यक्रम


    बाद में जब और जैसे ही स्थिति सामान्य होती है. इस पर दोबारा विचार किया जाएगा. मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने आगे कहा कि यात्रा एक दिशात्मक दिशा में आगे बढ़ेगी. कटरा से भवन के लिए पारंपरिक मार्ग बाणगंगा, अधुक्वारी और सांझीछत का उपयोग ऊपर जाने के लिए किया जाएगा और हिमकोटी मार्ग-तारकोटे मार्ग का उपयोग भवन से वापस आने के लिए किया जाएगा.


    राज्य के बाहर और साथ ही राज्य के रेड जोन जिलों के तीर्थयात्रियों की कोविड नकारात्मक परीक्षण रिपोर्ट को दर्शन हेलिपैड, एंट्री पॉइंट्स, बाणगंगा, कटरा में चेक किया जाएगा. नकारात्मक रिपोर्ट वाले लोगों को ही भवन की ओर जाने की अनुमति होगी. घोड़ा, पिट्ठू और पालकिस को अनुमति नहीं होगी. तारकोटे मार्ग पर मुफ्त लंगर और सांझी छत्त में प्रसाद केंद्र तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए खोले जाएंगे.

    ये भी पढ़े-स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर एक दीप शहीदों के नाम


    तीर्थयात्रियों की आसानी और आराम के लिए बोर्ड द्वारा स्थापित सभी सुविधाएं जैसे बैटरी वाहन, यात्री रोपवे और हेलीकॉप्टर सेवाएं सामाजिक दूरी का पालन करके सख्ती से चलाया जाएगा. सामूहिक समारोहों से बचने के लिए, अटका आरती क्षेत्र में तीर्थयात्रियों की बुकिंग बैठने श्रद्धा विशेष पूजा को अगले आदेश तक अनुमति नहीं दी जाएगी.

    ये भी पढ़े-फिर उठे सीतामढ़ी पुलस पर सवालिया निशाँन ? सीतामढ़ी पुलिस ने दो युवक को बर्बरता से पिटा,देखे वीडियो



    कतार परिसरों में तीर्थयात्रियों को केवल सामाजिक भेद को बनाए रखने के लिए चिह्नों पर जाने की अनुमति होगी. तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए क्लॉकरूम खोलने की अनुमति दी जाएगी. हालांकि कंबल स्टोर शुरू में बंद रहेंगे. इस बीच यात्रा के फिर से शुरू होने से पहले अत्यंत स्वच्छता और सफाई सुनिश्चित करने के लिए श्राइन बोर्ड द्वारा कटरा से भवन और भवन क्षेत्र में बड़े पैमाने पर स्वच्छता अभियान शुरू किया गया है. इस संबंध में सीईओ ने आज श्राइन बोर्ड के संबंधित अधिकारियों और इंजीनियरों की एक बैठक में तीर्थयात्रा को फिर से शुरू करने के संबंध में सभी व्यवस्थाओं की समीक्षा की. वह यात्रियों की सुविधा के लिए तीर्थ-केंद्रित व्यवस्थाओं के सभी पहलुओं की लगातार निगरानी कर रहा है.

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad