Header Ads

  • BREAKING NEWS

    दोस्ती का लॉलीपॉप दिखाकर चीन नेपाल की जमीन पर कर रहा है कब्जा

     




    We News 24 Hindi »बीजिंग/काठमांडू 

    रविन्द्र साह की रिपोर्ट

    काठमांडू: चीन ने एक बार फिर नेपाल को मोहने के लिए बड़ी-बड़ी बातें की हैं, उसे विकास और मजबूत रिश्तों का सपना दिखाया है। नेपाल के संविधान दिवस के बहाने चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग और प्रधानमंत्री ली केकियांग ने नेपाली समकक्षों को मैसेज भेजा है। दूसरी तरफ आज ही मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि चीनी सेना ने नेपाली क्षेत्र में अतिक्रमण करके कई इमारतों को निर्माण कर लिया है।

    ये भी पढ़े-किसान संबंधी बिलों के पास होने पर पीएम मोदी ने कहा,देश के कृषि क्षेत्र की काया पलट जाएगी

    नेपाली न्यूज वेबसाइट कांतिपुर के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा है कि वह नेपाल-चीन संबंधों के विकास को बहुत महत्व देते हैं और इससे विभिन्न क्षेत्रों में आपसी संबंध और व्यावहारिक सहयोग विकसित होगा। उन्होंने रविवार को संविधान दिवस के अवसर पर अपने समकक्ष बिद्यादेवी भंडारी को एक बधाई संदेश भेजकर ये बातें कहीं। 


    शी ने पिछले साल उनके और राष्ट्रपति भंडारी की आपसी यात्रा को भी याद किया। उन्होंने कहा कि इस यात्रा ने मैत्रीपूर्ण रणनीतिक साझेदारी के राजनयिक संबंधों को आगे बढ़ाया। शी ने यह भी कहा कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ दोनों देशों के सहयोग ने आपसी मित्रता को और मजबूत व गहरा किया है। उन्होंने कहा, "चीन-नेपाल संबंधों के विकास पर ध्यान केंद्रित करने के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में व्यावहारिक सहयोग को और विकसित करने और दोनों देशों के लोगों को अधिक लाभ पहुंचाने की इच्छा है।''



    चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग ने रविवार को अपने समकक्ष केपी शर्मा ओली को संविधान दिवस की शुभकामनाएं दीं और कहा कि नेपाल और चीन पारंपरिक रूप से मित्रवत पड़ोसी हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में दोनों पक्षों के बीच सहयोग पिछले कुछ वर्षों से लगातार बढ़ रहा है। ली ने यह भी कहा कि महामारी के साथ-साथ विभिन्न क्षेत्रों में लड़ाई में नेपाल के साथ सहयोग बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा, "चीन नेपाल के साथ विकास और समृद्धि-उन्मुख रणनीतिक सहयोग, साझेदारी को और गहरा करना चाहता है।

    ये भी पढ़े-SRH के कप्तान डेविड वार्नर ने युवा खिलाडीको टिप दी कहा जीत हार की चिंता ना करे

    चीन ने नेपाल की जमीन पर किया कब्जा
    इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि नेपाल के हुम्ला जिले में चीनी सेना ने जमीन पर कब्जा करके वहां 9 इमारतों का निर्माण कर लिया है। हु्म्ला जिले के नाम्खा गांव में चीन ने ना सिर्फ इमारतों का निर्माण किया, बल्कि अब वहां नेपाली नागरिकों को जाने से रोक रहा है। गांवपालिका के अध्यक्ष विष्णु बहादुर लामा सीमावर्ती क्षेत्र में घूमने गए तो वे अतिक्रमण देखकर हैरान रह गए। 

    उन्होंने बताया कि लिमी गांव के लाप्चा क्षेत्र में चीनी सेना ने इन इमारतों का निर्माण लगभग पूरा कर लिया है। उन्होंने बताया कि चीनी सैनिकों ने सीमा के एक किलोमीटर अंदर आकर इन भवनों का निर्माण किया है। दो महीने पहले ही चीन की ओर से नेपाल के गोरखा जिले के रूई गांव पर कब्जे की खबर आई थी लेकिन नेपाल की ओली सरकार ने आंखें मूंदकर इससे इनकार कर दिया था। 





    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad