Haider Aid

  • Breaking News

    दिल्ली पुलिस का कहना ,हाथरस के निर्भया गैंगरेप पीड़िता के परिजन नहीं चाहते थे धरना, संगठनों ने बैठाने की कोशिश




    We News 24 Hindi »नई दिल्ली 

    काजल कुमारी की रिपोर्ट




    नई दिल्ली:  हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिजन धरना पर बैठना नहीं चाहते थे। लेकिन विभिन्न संगठन के समूह में एकत्र होकर आए लोगों ने इस मुद्दे को हाईजैक करने की कोशिश की। लेकिन हाथरस प्रशासन एडीएम, एसडीएम और सर्कल आफिसर से बात करने के बाद वे बाद वे उनके साथ हाथरस के लिए रवाना हो गए। यह बयान रात करीब 11 बजे दिलली पुलिस के एडिशनल पीआरओ अनिल मित्तल की तरफ से जारी किया गया।

    ये भी पढ़े-बड़ी खबर :28 साल बाद आज आएगा बाबरी मस्जिद का फैसला, जोशी और आडवाणी समेत कई पर हैं विवादित ढांचा गिराने के आरोप


    चूंकि यह मामला यूपी प्रशासन से संबंधित है। लिहाजा प्रदर्शनकारी यूपी सरकार से आश्वासन चाहते थे कि मामले में न्याय हो और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इस बात के मद्देनजर खुद हाथरस कलेक्टर ने भी परिवार के सदस्यों से बात की और उन्हें न्याय का दिलाने का आश्वासन दिया। साथ ही हाथरस आने के लिए कहा तो परिजन प्रशासन के अधिकारियों के साथ रवाना हो गए।


    ये भी पढ़े-लता मंगेश्कर के जन्मदिवस पर संगीतमय संध्या “मेरी आवाज़ ही पहचान है” का हुआ आयोजन



    जेएनयू छात्रों ने किया प्रदर्शन
    हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद जेएनयू के छात्रों ने जेएनयू परिसर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और मोमबत्ती जलाकर विरोध जताते हुए नारेबाजी की। छात्रों ने कहा कि दुष्कर्म के बाद हत्या का यह पहला मामला नहीं है। 





    2012 में भी हम यह देख चुके हैं। सरकार बड़े बड़े दावे व वादे करती है लेकिन महिला सुरक्षा आज हाशिए पर है। उत्तर प्रदेश में महिलाओं पर हिंसा की दर लगातार बढ़ रही है। इस प्रदर्शन में छात्राओं ने भी हिस्सा लिया। जेएनयू के छात्र बुधवार को इसके विरोध में एक प्रदर्शन करने की योजना बना रहे हैं। उन्होंने सरकार से इस बारे में निष्पक्ष जांच की मांग भी है।
     

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें


    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad