Haider Aid


 

  • Breaking News

    अगर नितीश कुमार जीते तो हरेगा बिहार ,चिराग पासवान

     



    We News 24 Hindi »पटना /बिहार

    अमिताभ मिश्रा  की रिपोर्ट


    पटना : बिहार चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान अकेले दमखम दिखाने को है तैयार   बुधवार को अपनी पार्टी का विजन डॉक्यूमेंट 'बिहार फर्स्‍ट, बिहारी फर्स्‍ट' जारी किया। इस दौरान चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर फिर से हमला बोला और कहा कि अगर गलती से भी नीतीश कुमार जीतते हैं तो बिहार हार जाएगा। लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के प्रमुख चिराग पासवान ने कहा कि नीतीश कुमार बिहार का उस गति से विकास करने में असफल रहे हैं, जिस गति से अन्य राज्यों का विकास हुआ है और जैसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल्पना की।


    लोजपा का विजन डॉक्यूमेंट 'बिहार फर्स्‍ट, बिहारी फर्स्‍ट' जारी करते हुए चिराग पासवान ने कहा कि 15 साल से सत्ता में रहने के बाद भी वे नाली-गली और खेत में पानी पहुंचाने की बात कर रहे हैं। नाली-गली विकास का कोई संकेत नहीं है। ये सब बुनियादी जरूरतें हैं, जो सालों पहले  हो जाना चाहिए था। बीते 15 साल में क्या किया, बिहार में रोजगार के लिए क्या किया? बिहार को सशक्त करने के लिए क्या किया? लोजपा नेता ने आरोप लगाया कि बिहार में अभी स्वास्थ्य की सही सुविधा नहीं है, अस्पतालों में डॉक्टर नहीं है और शिक्षा के हालात खराब हैं ।






    नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर रहने वाले चिराग पासवान ने कहा कि अगर नीतीश कुमार जीतते हैं तो बिहार हार जाएगा। चिराग ने कहा कि वह सकारात्मक राजनीति करना चाहते हैं, युवा हैं और दुनिया घूमे हैं। ऐसे में उन्होंने अपने दृष्टि पत्र में हर मुद्दे को शामिल किया है, जिससे बिहार की जनता जूझती है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि अबतक तो बिजली पहुंच जानी चाहिए थी लेकिन कुमार अब इसका वादा कर रहे हैं ।


    ये भी पढ़े-पहले फेज में देश में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन इन लोगो को लगेगी ,सरकार कर चुकी पूरी तैयारी



    लोजपा के दृष्टि पत्र में समान काम-समान वेतन लागू करने, युवा आयोग का गठन करने का वादा किया गया है। लोजपा इस बार 137 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और उसने नीतीश कुमार की जद (यू) द्वारा लड़ी जा रही सभी सीटों पर भाजपा के बागियों सहित अपने उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है, जिससे बिहार विधानसभा चुनाव में एक नया मोड़ आया है और मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है। 

    ये भी पढ़े-सीतामढ़ी विधानसभा सीटः क्या इस बार जीत पाएगी BJP ? जाने जनता की राय



    लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने कहा कि माइग्रेशन यानी पलायन राज्य में सबसे बड़ा मुद्दा था और यह महामारी के दौरान स्पष्ट हो गया, लेकिन राज्य के पास इसकी जांच की कोई योजना नहीं है। उनकी पार्टी ने कहा कि सत्ता में आने पर उसकी सरकार रोजगार पोर्टल बनाएगी जहां रोजगार लेने वाला और देने वाला सीधा जुड़ सकेगा।


    चिराग ने कहा कि मुख्यमंत्री के पास युवाओं के लिए कोई योजना नहीं है। वह कहते हैं कि हर कोई सरकारी नौकरी नहीं पा सकता है, वहीं, सरकार इस आधार पर राज्य में उद्योगों को लाने में सक्षम नहीं है कि बिहार एक लैंडलॉक राज्य है। कई राज्यों में भूस्खलन हुआ है, लेकिन उन्होंने औद्योगिकीकरण के माध्यम से रोजगार पैदा किया है और बहुत तेजी से विकास किया है।



    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad