Haider Aid


 

  • Breaking News

    सीतामढ़ी जनसभा में भीड़ देख गदगद नजर आए तेजस्वी यादव,तेजस्वी ने कहा 10 नवम्बर को कर दो चचा की विदाई

     



    We News 24 Hindi »सीतामढ़ी/बिहार 

    रोहित ठाकुर के साथ दीपक कुमार की रिपोर्ट



    सीतामढ़ी : बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार एनडीए बनाम महागठबंधन का मुकाबला दिलचस्प होता दिख रहा है। महागठबंधन के मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव की सभा में भीड़ की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। राजद नेताओं के लिए ये तस्वीरें बदलाव की बयार है तो दूसरी ओर एनडीए के नेताओं के लिए यह बुलाई गई भीड़ मात्र है।  



    तेजस्वी मंगलवार को सीतामढ़ी  विधानसभा में अपने महागठबंधन के उम्मीदवार के समर्थन के लिए डुमरा हवाई अड्डा पहुचे , जहां उन्होंने महागठबंधन कोंग्रेस और RJD  के प्रत्याशी सुनील कुमार कुशवाहा ,ऋतू जयसवाल,अबू दोजाना ,सरेश राम और अमीत कुमार टुन्ना के लिए वोट मांगे।उन्हें  सुबह के 11 बजे आना था पर तक़रीबन दोपहर 2 बजे हेलीकाप्टर से हवाई फिल्ड में उतरे  उनके बहार आते ही  चारों तरफ नारों की गूंज- इस बार तेज रफ्तार, तेजस्वी सरकार।


    ये भी पढ़े-सुरसंड विधानसभा से कौन बनेगा विधायक ,देखे LJP के उम्मीदवार अमीत चौधरी उर्फ़ माधव चौधरी से खास बात चित

     

    सभा में कोरोना का कोई डर नहीं, न ही निर्धारित दिशानिर्देश का ध्यान। सभा में भीड़ देख तेजस्वी यादव गदगद नजर आए। लोगों से भरा मैदान पार्टी के झंडों से रंगा नजर आ रहा था। सभा में आए लोगों का उत्साह भी देखते ही बन रहा था। मंच के सामने से हर युवा तेजस्वी को अपने मोबाइल में कैद करना चाहता था।


    एक मौका मांगते हैं तेजस्वी, कहते हैं- हम ठेठ बिहारी हैं

    तेजस्वी अपने संबोधन में 10 नवंबर को आनेवाले चुनाव परिणाम में नीतीश कुमार की विदाई तय होने की बात कहते हैं। नारों की गूंज के बीच कहते हैं- "हम ठेठ बिहारी हैं। हम पकाऊ और बिकाऊ भाषण नहीं देंगे। बिहार में न कारखाना लगा, न गरीबी मिटा न पलायन रुका। 15 साल में ये सब नहीं हुआ तो पांच साल में ये क्या करेंगे। हम सिर्फ एक मौका मांग रहे हैं।"


    ये भी पढ़े-अचानक मंच से क्यों कूद कर भागे RJD नेता तेजस्वी यादव ,पढ़े पूरा मामला


    लड़े के बा, करे के बा और जीते के बा
    पूरे भाषण में तेजस्वी ने एक बार भी लोजपा और चिराग का जिक्र नहीं किया। अंत में कहा, "10 नवबंर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की विदाई कर देनी है। क्योंकि अब तीर का जमाना नहीं, मिसाइल का जमाना है। अरे लड़े के बा, करे के बा और जीते के बा। चाचा को आराम कराइए और भाजपा को भगाइए।" इसके बाद मंच पर मौजूद महागठबंधन प्रत्याशी को माला पहनाते हैं और सभा समाप्त हो जाती है।




     


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें


    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad