Haider Aid

  • Breaking News

    कोलकाता :TMC नेता के घर कोयला तस्करी मामले में CBI ने छापा मारा , ममता बनर्जी के भतीजे का करीबी है आरोपी



    We News 24 Hindi »कोलकाता/पश्चिम बंगाल
    सुजीत कुमार विश्वास की रिपोर्ट 


    कोलकाता : केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने गुरुवार को कोयला तस्करी मामले में चल रही जांच के सिलसिले में कारोबारी और युवा तृणमूल कांग्रेस (TMC) के नेता विनय मिश्रा, व्यवसायी अमित सिंह और नीरज सिंह के तीन आवासों पर छापे मारे। हालांकि, छापे के दौरान कोई भी घर पर मौजूद नहीं था। मिश्रा समेत अन्य के नाम पर नोटिस जारी किए गए हैं, जिसमें सभी से 4 जनवरी को कोलकाता स्थित सीबीआई दफ्तर में पूछताछ के लिए उपस्थित रहने के लिए कहा गया है। 


    ये भी पढ़े-अपने आदर्शों के लिए सदैव प्रेरणाश्रोत बने रहेंगे के बी सहाय : राजीव रंजन


    इस मामले में यह आरोप लगाया गया है कि अवैध रूप से खनन किए गए कोयले, जिसकी कीमत कई हजार करोड़ रुपये है, को पश्चिम बंगाल के पश्चिमी हिस्सों से चलाए गए एक रैकेट द्वारा कई वर्षों तक ब्लैक मार्केट में बेचा गया है। इस मामले में, दिसंबर के शुरुआती हफ्तों में सीबीआई ने कोलकाता के सीए गणेश बगारिया के दफ्तर में भी छापा मारा था।



    सितंबर में जांच शुरू होने के बाद से, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) आरोप लगाती रही है कि बिक्री से प्राप्त पैसे को शेल कंपनियों के जरिए से सफेद किया गया और सत्ताधारी पार्टी (टीएमसी) को दिया गया। बीजेपी ने यह भी आरोप लगाया है कि मुख्य फायदा अभिषेक बनर्जी जोकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं, उन्हें हुआ है। बता दें कि अभिषेक बनर्जी टीएमसी की युवा विंग के अध्यक्ष भी हैं और 15 जुलाई को उन्होंने मिश्रा समेत 15 महासचिवों की नियुक्ति की थी।


    ये भी पढ़े-जल्द ही सिंगर रैपर बादशाह के साथ नजर आने वाली हैं भोजपुरी अभिनेत्री अक्षरा सिंह



    केंद्रीय पुलिस बल के जवानों के साथ सीबीआई की टीमों ने गुरुवार को आरोपियों के तीन अपार्टमेंट्स पर एक साथ छापा मारा। सीबीआई अधिकारियों ने छापेमारी में क्या मिला, इसकी जानकारी देने से इनकार कर दिया। हालांकि, एक अधिकारी ने नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर बताया कि पासवर्ड लगे हुए कई लैपटॉप्स, डॉक्युमेंट्स मिश्रा के घर से जब्त किए गए हैं। 


    फरार है मुख्य संदिग्ध लाला 


    इस मामले में मुख्य संदिग्ध अनूप माझी उर्फ लाला फरार है और जांच एजेंसी द्वारा पहले ही एक लुकआउट नोटिस जारी किया जा चुका है। नवंबर में, सीबीआई ने माझी द्वारा कथित रूप से चलाए जा रहे 36 दफ्तरों पर छापा मारा और आसनसोल में ईसीएल मुख्यालय में जांच भी की। सीबीआई की टीमों ने गुरुवार को हुगली जिले के कोननगर में अमित सिंह और नीरज सिंह के आवासों पर भी छापा मारा। यह आरोप लगाया गया है कि मिश्रा और सिंह के भाई-बहन बांग्लादेश तक गायों की तस्करी में भी शामिल हो सकते हैं। इस मामले की भी सीबीआई साल 2018 से जांच कर रही है। सीमा सुरक्षा बल (BSF) के दो कमांडेंट अब तक इस मामले में गिरफ्तार किए जा चुके हैं और कई और भी जांच के दायरे में हैं। 


    ये भी पढ़े-दीदीजी फाउंडेशन के राष्ट्रीय सम्मान में विभूतियों को मिलेगा सम्मान, बच्चें भरेंगे उड़ान


    बीजेपी ने टीमएसी पर बोला हमला


    सीबीआई की छापेमारी के बाद बीजेपी ने टीमएसी पर हमला बोला है। पूर्व मंत्री और ममता के खास नेताओं में से एक रहे और अब बीजेपी में शामिल हो चुके शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट किया, ''यह भतीजे की 'सक्षम' लीडरशिप में टीम मेंबर्स की सच्ची तस्वीर है। उन्होंने टीमएसी को 'अलग स्तर' पर ले जाने के लिए क्या शानदार टीम बनाई है।'' ट्वीट में उन्होंने अभिषेक बनर्जी का जिक्र भतीजे के रूप में किया है। बता दें कि टीमएसी से अलग होने के बाद से ही अधिकारी लगातार टीमएसी और ममता बनर्जी पर हमला बोल रहे हैं। वहीं,  बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी हुगली जिले के दनकुनी में एक रैली में अभिषेक बनर्जी और मुख्यमंत्री पर निशाना साधा। घोष ने कहा, "सभी पैसे कालीघाट (जहां मुख्यमंत्री रहती हैं) गए हैं।''




    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad