Haider Aid

  • Breaking News

    देश में कोरोना महामारी के बीच बर्ड फ्लू ने दी दसतक,हरियाणा में चार लाख से अधिक मुर्गियों की मौत




    We News 24 Hindi »नई दिल्ली 
    कविता चौधरी की रिपोर्ट 


    नई दिल्ली: पीटीआइ। राजस्थान, मध्य प्रदेश एवं केरल समेत कई राज्यों में बर्ड फ्लू ने लोगों की चिंंता बढ़ा दी है। इस बीच कई राज्यों ने मंगलवार को बर्ड फ्लू के H5N8 स्ट्रेन को नियंत्रित करने को लेकर चेतावनी जारी की और मरे हुए पक्षियों के नमूने जांच के लिए भेजे। वहीं केरल में मुर्गियों और बत्तखों को मारना शुरू कर दिया गया है। पड़ोसी राज्य की स्थिति को देखते हुए कर्नाटक और तमिलनाडु ने निगरानी बढ़ा दी है और इसे लेकर जरूरी दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं।




    केरल में फ्लू के कारण लगभग 1,700 बत्तखों की मौत हो गई। हरियाणा के पंचकुला जिले में पिछले 10 दिनों में  चार लाख से अधिक मुर्गियों की मौत हो गई है। राज्य के पशुपालन और डेयरी विभाग ने कहा है कि इन पक्षियों की मौत का कारण एवियन इन्फ्लुएंजा है या नहीं? इसकी अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। एक आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार इनके नमूने जालंधर में रिजनल डिजीज डायग्नोस्टिकलेब्रोटेरी को भेजे गए हैं। रिपोर्ट का अभी इंतजार है।


    ये भी पढ़े-2021 में बॉलीवुड को भी वैक्सीन चाहिये - प्रिंस के कश्यप

    मध्य प्रदेश में के इंदौर में एक हफ्ते पहले बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद से 155 कौवों की मौत की मौत हो गई है। वहीं राजस्थान में झालवार के बाद कोटा और बारां में पक्षियों को संक्रमित पाया गया है।  हालांकि, अभी तक महाराष्ट्र में कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है,  जो मध्य प्रदेश के साथ सीमा साझा करता है।
    हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों ने कांगड़ा जिले के पोंग डैम झील अभयारण्य के आसपास के क्षेत्र का सर्वेक्षण किया, ताकि वहां पर घरेलू पक्षियों में फ्लू के प्रसार की जांच की जा सके। इससे एक दिन पहले मृत प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गए थे। राज्य के पशुपालन अधिकारियों ने कहा कि अब तक 2,700 प्रवासी पक्षी इस झील क्षेत्र में मृत पाए गए हैं और इनके नमूने परीक्षण के लिए भेजे गए हैं।


    ये भी पढ़े-VIDEO:जाने पटना जिले के मनेर में स्थित मध्यकालीन मखदूम शाह दौलत के मकबरे का इतिहास



    केरल में अलाप्पुझा और कोट्टायम में प्रभावित क्षेत्रों के एक-एक किलोमीटर के दायरे में पक्षियों को मारने का ऑपरेशन शुरू किया गया था। एक दिन पहले इन  दो जिलों में भोपाल में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिसीज में नमूनों के परिणामों की पुष्टि हुई। अधिकारियों के अनुसार प्रशासन द्वारा गठित रैपिड रिस्पांस टीमों ने दिशा-निर्देशों के अनुसार बतख, मुर्गियों और अन्य घरेलू पक्षियों को मारना शुरू कर दिया है। 




    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad