Haider Aid

  • Breaking News

    दसवीं के छात्रों के लिए अच्छी खबर, कोई भी छात्र 10 वीं बोर्ड परीक्षा में नहीं होगा फेल



    We News 24 Hindi » नई दिल्ली 
    अंजली कुमारी   की  रिपोर्ट


    नई दिल्ली: CBSE स्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए बहुत अच्छी खबर आई है. दरअसल, स्किल इंडिया (Skill India) के मकसद को ध्यान में रखते हुए CBSE Board ने नए नियम बनाए हैं. इनसे छात्रों को कई फायदे मिलने वाले हैं. नए नियम के मुताबिक, सीबीएसई के छात्रों को अब 10वीं की परीक्षा (CBSE Board Exams 2021) में फेल नहीं किया जाएगा. कई छात्र मैथ (Math) या साइंस (Science) विषयों में फेल हो जाते हैं लेकिन अगर वे कंप्युटर या किसी दूसरी स्किल में अच्छे हैं तो सिर्फ एक या दो विषय में अच्छे अंक नहीं होने की स्थिति में उन्हें फेल (Fail) नहीं किया जाएगा.


    ये भी पढ़े-इस समय की बड़ी खबर , दुनिया की सबसे खूंखार खुफिया एजेंसी करेगी दिल्ली ब्लास्ट की जाँच


    छात्रों का साल नहीं होगा बर्बाद

    सीबीएसई (CBSE) के इन नियमों से हुनरमंद (Skilled) बच्चों का साल खराब होने से बच जाएगा. कई हुनरमंद बच्चे किसी एक विषय (Subject) में कमजोर होने के कारण फेल हो जाते थे और उनका साल बर्बाद हो जाता था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. दरअसल सीबीएसई (CBSE) ने अपने नियमों में कुछ बदलाव कर नए नियमों को जोड़ा है.

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B


    इस नए नियम को लेकर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं. इस नए नियम से बच्चे काफी खुश हैं तो वहीं कुछ टीचर और अभिभावक काफी परेशान भी हैं. 


    ये भी पढ़ें:- मिर्जापुर,कुष्ठ रोग भगाने का लिया संकल्प ,रोग से घृणा करो रोगी से नहीं


    नई शिक्षा नीति को लेकर हो रहे कई बदलाव


    सीबीएसई (CBSE) की ओर से तय स्किल बेस्ड लर्निंग प्रोग्राम (Skill Based Learning Program) में छात्रों की रुचि साल-दर-साल बढ़ती जा रही है. 2020 में जहां 20 प्रतिशत छात्र-छात्राओं ने स्किल बेस्ड सब्जेक्ट्स को चुना तो 2021 में इनका प्रतिशत 30 हो गया. छात्र-छात्राओं का रुझान स्किल डेवलपमेंट (Skill Development) की ओर बढ़ा है और अगर कोई किताबी पढ़ाई में अच्छा नहीं माना जा रहा है तो भी छात्र का कोई नुकसान नहीं होगा.


    नई शिक्षा नीति (New Education Policy) को लेकर स्कूलों में कई बदलाव किए जा रहे हैं. हाल ही में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सीबीएसई के प्रमुख से बातचीत की थी. इसमें उन्होंने स्कूलों में नई शिक्षा नीति को लागू करने पर जोर दिया था. 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad