Haider Aid


 

  • Breaking News

    खबरदार- UK खतरनाक कोरोना के नए वेरिएंट की दुनिया के 41 देशोंअपना पांव पसरा , WHO ने किया सावधान



    We News 24 Hindi »लंदन/एजेंसी



    लंदन: क्‍या आपका भी  लंदन जाने का इरादा हे तो जरा ठ‍हरिए। यह खबर आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है। आप अपनी यात्रा को रोक दे  क्‍यों कि ब्रिटेन में मिला कोरोना वायरस का खतरनाक नया संस्‍करण दुनिया में तेजी से पांव पसार रहा है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन का दावा है कि यह अब तक दुनिया के 41 देशों में दस्‍तक दे चुका है। बता दें कि 14 दिसंबर को ब्रिटेन सरकार ने घोषणा की थी कि देश में एक नए कोरोना वायरस ने दस्‍तक दिया है।


    ये भी पढ़े-2021 में बॉलीवुड को भी वैक्सीन चाहिये - प्रिंस के कश्यप

     

    महज चार सप्‍ताह में इस वेरिएंट ने 41 देशों में अपना पांव पसार चुका है। इस खबर के बाद कई मुल्‍कों ने ब्रिटेन की यात्रा को स्‍थगित कर दिया है। आइए जानते हैं कि आखिर ब्रिटेन ने इसके रोकथाम के लिए क्‍या कदम उठाए हैं। नए वेरिएंट को रोकने के लिए दुनिया के अन्‍य मुल्‍कों ने ऐहतियात के तौर पर क्‍या कदम उठाए हैं।

    नए वेरिएंट की रोकथाम के लिए उठाये गए बड़े कदम

    1- भारत ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित था। वहीं, अब प्रधानमंत्री जॉनसन ने अपनी भारत यात्रा को स्थगित  कर दिया है। भारत दौरा रद करने से पहले जॉनसन ने पीएम मोदी से फोन पर बात की है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत न आने पर उन्होंने पीएम मोदी से खेद भी जताया है। बोरिस जॉनसन ने कोरोना के नए स्ट्रेन और ब्रिटेन में लगाए गए लॉकडाउन के चलते ये निर्णय लिया है।


    ये भी पढ़े-VIDEO:जाने पटना जिले के मनेर में स्थित मध्यकालीन मखदूम शाह दौलत के मकबरे का इतिहास

    2-  ब्रिटन ने कहा है कि कोविड-19 के प्रसार को सीमित करने के लिए सरकार जल्‍द ही नए सीमा प्रतिबंधों की घोषणा करेगी। कैबिनेट कार्यालय मंत्री माइकल गोव ने मंगलवार को कहा कि जल्‍द ही सीमा सुरक्षा के लिए हम नए प्रस्‍ताव लाएंगे। उन्‍होंने कहा कि इसका मकसद देश को कोरोना वायरस के प्रसार से बचाना है। उन्‍होंने आगे कहा कि देश के नागरिकों के लिए संदेश साफ है कि उन्‍हें दूसरे देशों की यात्रा नहीं करनी चाहिए।


    3- ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना संक्रमण के नए स्ट्रेन के बढ़ते संकट के बीच फिर से देश में लॉकडाउन का ऐलान किया है। बोरिस जॉनसन ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए कम से कम फरवरी के मध्य तक नया नेशनल लॉकडाउन लगाया है ताकि नए स्ट्रेन को रोका जा सके। एक तरफ ब्रिटेन में कोरोना की वैक्सीन लगाने का काम शुरू किया गया है तो दूसरी तरफ लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। ब्रिटेन सरकार के चिकित्‍सा विशेषज्ञों ने कोरोना के नए वेरिएंट के प्रसार पर चिंता व्‍यक्‍त की थी और इसे खतरे की घंटी बताया है।


    4- प्रधानमंत्री जॉनसन ने कहा है कि वायरस ने अपने हमले का तरीका बदल दिया है, ऐसे में हमें भी सजग हो जाना चाहिए। देश के लिए यह कठिन समय है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान लोगों को घरों में ही रहना होगा और सिर्फ जरूरी काम से ही निकलने की इजाजत दी जाएगी। मसलन आवश्यक सामान लाने के लिए लोग घरों से निकल सकते हैं, अगर घर से काम नहीं कर पा रहे हैं तो दफ्तर जा सकते हैं। सभी गैर-जरूरी दुकानें और हेयरड्रेसर जैसी पर्सनल केयर सर्विस बंद रहेंगे।

    ये भी पढ़े-9 महीनों बाद वकीलों ने पटना हाईकोर्ट रखा कदम ,वकील और पुलिस के बीच हो गयी तू-तू मैं-मैं

    आखिर क्‍यों खतरनाक है न्‍यू वेरिएंट

    नए वेरिएंट की तीन प्रमुख बातें दुनिया को चिंतित कर रही हैं। यह बहुत जल्‍दी कोरोना वायरस के अन्‍य रूपों की जगह ले रहा है। इसके म्‍यूटेशन से वायरस के उन हिस्‍सों में बदलाव हुआ है जो मानव कोशिकाओं पर सीधे असर डालने में सक्षम हैं। इसमें N501Y नाम का म्‍यूटेशन हुआ है, जो शरीर की कोशिकाओं को प्रभावित करता है। शोध से यह बात सामने आई है कि कुछ म्‍यूटेशन की वजह से वायरस की इंसानी कोशिकाओं को संक्रमित करने की क्षमता बढ़ जाती है।




    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B


      

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad