Haider Aid

  • Breaking News

    चिराग पासवान की पार्टी टूट के कगार पर ,जेडीयू में शामिल होंगे लोजपा के बागी नेता





    We News 24 Hindi » पटना / बिहार

    अमिताभ मिश्रा  की  रिपोर्ट


    पटना : बिहार विधान सभा चुनाव के बाद से ही लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में भगदड़ मची हुई है. खबर आ रही है कि लोजपा में एक बार फिर बगावत तय हो गई है.   इससे पहले बीते जनवरी में पार्टी के 27 नेताओं ने एक साथ इस्‍तीफा देकर राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) को अपना समर्थन दिया था. प्राप्त खबरों के अनुसार लोजपा के लगभग पांच दर्जन नेता एक साथ 18 फरवरी को सत्तारूढ़ पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) में शामिल होंगे. बात दें कि लोजपा के बागी नेता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा भी कर सकते हैं.


    ये भी पढ़े-जम्मू कश्मीर में एक बार फिर आतंकी हमला .अनंतनाग में IED ब्लास्ट, कोई हताहत नहीं


    18 फरवरी को जेडीयू में शामिल होंगे लोजपा के बागी नेता 

    लोक जनशक्ति पार्टी के बागी नेता केशव सिंह के आवास पर दीनानाथ क्रांति की अध्यक्षता में पार्टी के अन्य बागियों की बैठक हुई जिसमें करीब पांच दर्जन नेताओं ने जेडीयू में शामिल होकर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) का हाथ मजबूत करने का फैसला किया है. केशव सिंह का कहना है कि ये नेता 18 फरवरी को जेडीयू कार्यालय में आयोजित मिलन समारोह में जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह (RCP Singh) के समक्ष पार्टी की सदस्यता ग्रहण करेंगे। मिलन समारोह में ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र यादव, जल संसाधन मंत्री संजय झा, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, पूर्व मंत्री महेश्वर हजारी, विधान पार्षद नीरज कुमार तथा मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह शामिल रहेंगे.


    ये भी पढ़े-बिहार क्रिकेट लीग में 21 मार्च से 27 मार्च तक भिड़ेंगे बिहार की 5 फ्रेंचाइज टीमें


    बागी नेता करेंगे चिराग पासवान पर धोखाधड़ी का मुकदमा 

    लोजपा के बागी नेताओं की बैठक में पार्टी पर धोखाधड़ी का मुकदमा करने का भी फैसला लिया गया है. लोजपा नेताओं का आरोप है कि चिराग ने झूठ का सहारा लेकर 94 विधानसभा क्षेत्रों में कार्यकर्ताओं को ठगा. फरवरी 2019 में 25 हजार सदस्य बनाने वालों को ही विधानसभा चुनाव का टिकट देने की घोषणा की गई, लेकिन बड़ी राशि वसूलने के बाद उन्हें टिकट नहीं दिया गया. पार्टी के नेताओं ने आरोप लगाया कि पैसे लेकर के लिए एनडीए से बाहर जाकर ऐसे-ऐसे लोगों को टिकट दिए गए, जिन्होंने न तो पार्टी के लिए सदस्यता अभियान चलाया, न ही उसमें शिरकत की. बैठक में लिए फैसले के अनुसार बागी नेता केशव सिंह, रामनाथ रमण, कौशल किशोर सिंह और दीनानाथ क्रांति भारतीय दंड विधान (IPC) की धारा 420, 406 व 409 के तहत चिराग पासवान पर अलग-अलग मुकदमा दाखिल करेंगे. 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B



     

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad