Haider Aid

  • Breaking News

    पोर्न फिल्म्स रैकेट: मुंबई में पोर्न फिल्मों के रैकेट का पर्दाफाश , कई मॉडल जांच के दायरे में



    हाइलाइट्स:

    1. कोरोना काल में भी मड आइलैंड में होती रही शूटिंग
    2. गिरफ्तार पांच लोगों से पूछताछ में सामने आई कई जानकारियां
    3. सरगना रोया खान उर्फ यास्मीन ने बताया कि उसने 50 से ज्यादा पॉर्न फिल्में बनाईं

    We News 24 Hindi » मुंबई 

    अनिल पाटिल की  रिपोर्ट

    मुंबई : पॉर्न फिल्में बनाने के आरोप में मुंबई क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। उनसे पूछताछ में कुछ नई जानकारियां सामने आई हैं। एक अधिकारी ने बताया कि जांच में कुछ मॉडल्स के नाम के नाम सामने आए हैं। उनसे संपर्क किया है। क्राइम ब्रांच की जांच के तार बॉलिवुड तक भी जा रहे हैं।



    कोरोना में उलझी रही पुलिस, चलने लगा पॉर्न फिल्मों का धंधा

    अधिकारी के अनुसार, कोरोना के दौर में जब बॉलिवुड, टीवी धारावाहिकों की शूटिंग बंद थी, उस दौर में पॉर्न फिल्मों की शूटिंग चल रही थी। यह सारी शूटिंग मालाड के मड आइलैंड में बंद बंगलों में होती थीं। उस दौर में पुलिस को पूरा फोकस कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सरकार और पब्लिक की मदद करना था। इसलिए बंगलों के अंदर क्या चल रहा था, पुलिस का इस तरफ ध्यान ही नहीं गया। आरोपियों ने उसी का फायदा उठाया।


    कई ऐप बनाकर अपलोड की गईं पॉर्न फिल्में

    आरोपियों ने खुद के कई ऐप्स भी बना रखे थे, जिसके लाखों कस्टमर थे। इन ऐप्स में आरोपी अपनी पॉर्न फिल्मों को अपलोड करते थे। इन ऐप्स को ओपन करने से पहले कस्टमर को बाकायदा सब्सक्रिप्शन फीस देनी पड़ती थी। जैसे, 199 रुपये महीने का, 499 रुपये 3 महीने का और 999 रुपये साल भर का। यह रकम भरने के बाद ही लोग इन ऐप्स में पॉर्न फिल्में देख सकते थे।


    ये भी पढ़े-LIVE देशभर का किसान संगठनों का आज चक्का जाम , दिल्ली में बढ़ी सुरक्षा


    50 से ज्यादा पॉर्न फिल्में बना चुकी थी रोया खान

    गिरफ्तार आरोपियों में रोया खान उर्फ यास्मीन नामक महिला इस रैकेट की मुख्य सरगना थी। उससे पूछताछ में पता चला कि उसने 50 से ज्यादा पॉर्न फिल्में बनाई हैं। वह पेशे से फोटोग्राफर है। गिरफ्तार दूसरी महिला प्रतिभा नलावडे पॉर्न फिल्मों की प्रोडक्शन इंचार्ज और ग्राफिक डिजायनर भी। क्राइम ब्रांच ने जिन तीन पुरुषों को गिरफ्तार किया है, उनमें मोनू जोशी कैमरा और लाइटमैन का काम करता था, जबकि भानु ठाकुर और मोहम्मद नासिर नामक आरोपियों को एक्टिंग का काम दिया गया था।


    आरोपियों के पास से ये सामान बरामद

    शनिवार को सीनियर इंस्पेक्टर केदारी पवार, लक्ष्मीकांत सालुंखे और धीरज कोली की टीम ने एक और महिला को डिटेन किया, जिसने मड आइलैंड के कुछ बंगलों में दर्जनों पॉर्न फिल्में बनाई हैं। मुंबई क्राइम ब्रांच चीफ मिलिंद भारंबे ने खुद आरोपियों से पूछताछ की। आरोपियों के गोरेगांव और अन्य ठिकानों पर भी शनिवार को सर्च किया गया। जांच टीम को डायलॉग लिखी कुछ स्क्रिप्ट भी मिली हैं। इसके अलावा छह मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, लाइट स्टैंड, कैमरा सहित कुल 5 लाख 68 हजार का सामान भी जब्त किया गया है।


    ये भी पढ़े-LIVE राकेश टिकैत का दावा चक्का जाम के दौरान कल कुछ लोग हिंसा फैलाने की कर सकते है कोशिश


    आरोपियों के बैंक अकाउंट्स की चल रही है जांच

    सभी आरोपियों के बैंक अकाउंट्स की जांच की जा रही है। क्राइम ब्रांच अब तक 36 लाख रुपये जब्त कर चुकी है। मड आइलैंड में कई हस्तियों के बंगले हैं, जो अक्सर किराए पर उठाए जाते हैं। आशंका जताई है कि कई बंगलों में इस तरह का सेक्स रैकेट चल रहा था। जिन अभिनेत्रियों के जरिए पॉर्न फिल्मों की शूटिंग होती थी, उन्हें 20 मिनट की इस फिल्म के लिए 30 हजार रुपये दिए जाते थे। 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad