Haider Aid

  • Breaking News

    देहरादून: आज हो सकता है उत्तराखंड के नए नवेले मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण

     





    We News 24 Hindi »देहरादून
    यसवंत सिंह विष्ट  की  रिपोर्ट


    देहरादून: उत्तराखंड के नए नवेले  मुख्यमंत्री के पद संभालने के बाद तीरथ सिंह रावत अब अपने मंत्रिमंडल का गठन करने जा रहे हैं। इस क्रम में वह शुक्रवार को दिल्ली जा सकते हैं। अगर कोई पेच न फंसा तो शनिवार तक तीरथ की टीम आकार ले लेगी। मंत्रिमंडल में सभी 11 पदों को भरे जाने की तैयारी है। मंत्रिमंडल में कुमाऊं मंडल को तवज्जो मिलने और महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढऩे की संभावना है। स्वयं मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जल्द मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण के संकेत दिए। उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा के बाद मंत्रियों को शपथ दिला दी जाएगी।

    ये भी पढ़े-हरियाणा में आज गठबंधन सरकार का दूसरा उम्मीदों वाली बजट पेश करेंगे मनोहर लाल खट्टर

    बुधवार को शपथ ग्रहण करने के बाद अब मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत अपने मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले चेहरों को लेकर मशक्कत में जुटे हुए हैं। गुरुवार को एक दिनी हरिद्वार दौरे से लौटने के बाद उन्होंने पार्टी नेताओं से इस विषय पर मंथन किया। वह लगातार केंद्रीय नेतृत्व के संपर्क में भी बने हुए हैं। अगर जरूरत हुई तो वह शुक्रवार को मंत्रिमंडल गठन पर केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा के लिए दिल्ली जा सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक यह लगभग तय है कि पिछले त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल के सभी आठ सदस्यों को रिपीट किया जाएगा। त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल में तीन मंत्री पद रिक्त थे, लेकिन तीरथ की टीम में सभी 11 पदों को भरा जाएगा। उत्तराखंड में संवैधानिक प्रविधानों के मुताबिक मुख्यमंत्री समेत 12 सदस्यीय मंत्रिमंडल हो सकता है।



    सूत्रों के मुताबिक तीरथ की कवायद अब मंत्रिमंडल के तीन पदों के इर्द-गिर्द सिमटी हुई है। त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल में पौड़ी गढ़वाल से तीन, ऊधमसिंह नगर से दो और टिहरी, हरिद्वार व अल्मोड़ा जिले से एक-एक मंत्री थे, जबकि स्वयं त्रिवेंद्र देहरादून का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। यानी, राज्य के 13 में से महज पांच जिलों को ही मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व मिला हुआ था। अब अगर तीरथ सिंह रावत, त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों को अपनी टीम में जगह देते हैं, तो बाकी तीन स्थान उन जिलों के हिस्से जाएंगे, जहां से कोई विधायक मंत्री नहीं था। इस स्थिति में उत्तरकाशी, चमोली, देहरादून, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, बागेश्वर, चम्पावत व नैनीताल के किन्हीं तीन विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है। 

    ये भी पढ़े-लुधियाना हाई स्पीड ट्रक ने स्कूटी सवार एक महिला को कुचल दिया

    मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का कहना है कि 'मंत्रिमंडल गठन को लेकर मंथन किया जा रहा है। इस संबंध में केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा की जाएगी। इसके बाद जल्द से जल्द मंत्रियों का शपथ ग्रहण करा दिया जाएगा।



    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad