Haider Aid

  • Breaking News

    ममता बनर्जी ने बताया ‘गोत्र’ तो ओवैसी ने कहा- मैं न शांडिल्य हूं और न ही जनेऊधारी, क्या करूं ?



    We News 24 Hindi »कोलकाता, पश्चिम बंगाल
    राजकुमार की रिपोर्ट 

    कोलकाता: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सीएम ममता बनर्जी के गोत्र  वाले बयान से सियासी पारा चढ़ गया है। पहले बीजेपी नेताओं ने ममता बनर्जी पर हमला बोला था। अब एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। ओवैसी ने कहा है कि मेरे जैसे लोगों का क्या होना चाहिए जो ना शांडिल्य हैं और ना ही जनेऊधारी। ओवैसी ने ट्वीट किया, ” मेरे जैसे लोगों का क्या होना चाहिए जो ना शांडिल्य हैं और ना ही जनेऊधारी। जो ना तो किसी खास भगवान का भक्त है और ना ही चालीसा या कोई और पाठ करता है। हर पार्टी जीतने के लिए हिंदू कार्ड खेलने में लगी है। अनैतिक, अपमानजनक और यह सफल नहीं होगा। 

    ये भी पढ़े-बिहार में फिर महंगा हुआ बालू, नीतीश सरकार ने बंदोबस्ती राशि में किया 50 प्रतिशत का इजाफा

    क्या कहा था ममता बनर्जी ने ?

     आपको बता दें कि नंदीग्राम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा था, “मैं मंदिर गई थी पुरोहित ने पूछा कि मेरा गोत्र क्या है? मुझे याद आया कि त्रिपुरेश्वरी मंदिर में अपना गोत्र मां,माटी, मानुष बताया था, लेकिन आज जब मुझसे पूछा गया तो मैंने कहा कि पर्सनल गोत्र शांडिल्य है, लेकिन मैं समझती हूं कि मेरा गोत्र मां-माटी-मानुष है।

    ये भी पढ़े-बिहार के नवादा में जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत, 2 लोगो की गई आंखों की रौशनी

    गिरिराज ने ममता पर साधा था निशाना

    केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने उन पर निशाना साधते हुए कहा था कि रोहिंग्या को वोट के लिए बसाने वाले, दुर्गा/काली पूजा रोकने वाले, हिंदुओ को अपमानित करने वाले, अब हार के ख़ौफ़ से गोत्र पर उतर गए। “शांडिल्य गोत्र” सनातन और राष्ट्र के लिए समर्पित है, वोट के लिए नहीं। 



    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad