Haider Aid

  • Breaking News

    बिहार विधानसभा में उठा कोरोना काल में प्राइवेट स्कूलों की मनमानी का मामला, मंत्री का जवाब- निजी स्कूलों पर नहीं सरकार का नियंत्रण




    • बिहार विधानसभा में उठा कोरोना काल में प्राइवेट स्कूलों की  मनमानी का मामला, मंत्री का जवाब- निजी स्कूलों पर नहीं सरकार का नियंत्रण




    We News 24 Hindi » पटना
    राजकुमार  की रिपोर्ट

    पटना: कोरोना काल में राज्य के प्राइवेट स्कूलों की मनमानी का मामला आज बिहार विधानसभा में उठा। विधानसभा के प्रश्नोत्तर काल में आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र ने इस मामले को उठाते हुए सरकार से जवाब मांगा कि जो निजी स्कूल कोरोना काल की मनमानी फीस अभिभावकों से वसूल रहे हैं और उनका शोषण कर रहे हैं, उनके ऊपर क्या कोई एक्शन लिया जाएगा।

    ये भी पढ़े-प. बंगाल : मनोनीत सांसद स्वपन दासगुप्ता को टिकट देने पर चौतरफा घिरी भाजपा, टीएमसी और कांग्रेस ने उठाए सवाल

     आरजेडी विधायक के इस सवाल पर विधानसभा में सरकार की तरफ से जवाब देते हुए शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि यह मामला बेहद गंभीर है, लेकिन यह भी सच्चाई है कि हम प्राइवेट स्कूलों द्वारा वसूली गई फीस वापस दिलवा पाएं, इसके लिए कोई कानून सरकार के पास नहीं है। सरकार ने निजी स्कूलों पर अपना नियंत्रण नहीं होने की बात विधानसभा में कही। इसके बाद विपक्ष के विधायकों ने सरकार को इस मामले पर घेर लिया। 

    ये भी पढ़े-Corona Update:भारत में 24 घंटे में मिले 24492 नए कोरोना संक्रमित मरीज, 131 की गई जान

    आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र और ललित यादव ने सरकार से कहा कि यह आखिर कौन-सी सिटी है कि प्राइवेट स्कूलों पर सरकार का नियंत्रण नहीं है। इसके बाद शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा में इस बात का भरोसा दिया कि सरकार प्राइवेट स्कूलों पर किस तरह नियंत्रण रख पाए, इसके लिए हम आवश्यक कदम उठाएंगे। स्कूलों की मनमानी कैसे रोकी जाए, इसपर भी काम किया जाएगा।

     

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad