Haider Aid

  • Breaking News

    विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर बिहार के उपमुख्यमंत्री ने कहा आयुष में सभी रोगों का इलाज संभव है

     



    We News 24 Hindi »पटना, बिहार
    राजकुमार की रिपोर्ट 


    पटना : विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर आयुष आयुर्विज्ञान अनुसंधान एवं अस्पताल संस्थान एवं प्रेम यूथ फाउंडेशन के  सहयोग से यूथ हॉस्टल में  फ्रेजर रोड पटना में  संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन बिहार के माननीय उपमुख्यमंत्री श्री तारकेश्वर प्रसाद ने किया ! उपमुख्यमंत्री ने भारतीय आयुष को कोरोना काल में संजीवनी की संज्ञा दी और भारतीय शिक्षा प्रणाली पर विशेष शोध और चिकित्सा के लिए उपस्थित ख्याति प्राप्त आयुष चिकित्सकों का आह्वान किया ! उन्होंने बताया कि आयुष में सभी रोगों का इलाज संभव है ।कार्यक्रम की अध्यक्षता फाउंडेशन के संस्थापक गांधीवादी प्रेम जी ने किया ।

    ये भी पढ़े-चेतावनी, इन राज्यों में तेज आंधी के साथ बारिश होगी, जानिए आपके इलाके में कैसा रहेगा मौसम

    वि न्यूज 24 के पत्रकार राजकुमार 

     
    भी पढ़े-हाजीपुर में कपड़े की दुकान में लगी भीषण आग, मां-बेटे की मौत, आग बुझाने में जुटी दमकल की 10 गाड़ियां

    इस अवसर पर ' आयुष आयुर्विज्ञान अनुसंधान एवं अस्पताल संस्थान ' के प्रबंध निदेशक डॉ उमाशंकर तिवारी ने कहा कि‘आयुष’ चिकित्सा पद्धति का अभिप्राय योगा, प्राकृतिक चिकित्सा , आयुर्वेद , होम्योपैथ , यूनानी एवं सिद्ध चिकित्सा पद्धति है इन सभी स्‍वास्‍थ्‍य प्रणालियों के संवर्द्धन एवं विकास, इन प्रणालियों के माध्‍यम से आमजन को स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएँ प्रदान करना तथा इनसे संबंधित चिकित्‍सा शिक्षा के संचालन का कार्य देखता है।  डॉ तिवारी ने कहा कि भारतीय चिकित्सा पद्धति के  पौराणिक और ऐतिहासिक महत्त्व को ध्यान में रखते हुए प्रतिवर्ष देश में आयुर्वेद दिवस, यूनानी दिवस और सिद्ध दिवस मनाए जाते हैं। आयुष प्रणालियों के संवर्द्धन और विकास के लिये भारत सरकार राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों के माध्यम से केंद्र प्रायोजित योजना के रूप में ‘राष्ट्रीय आयुष मिशन’ को क्रियान्वित कर रही है। आयुष ग्राम की अवधारणा के अंतर्गत व्यवहार परिवर्तन, संचार और स्थानीय औषधीय जड़ी बूटियों की पहचान और उपयोग के लिये ग्राम स्वास्थ्य कार्यकर्त्ताओं के प्रशिक्षण के माध्यम से आयुष आधारित जीवन शैली को प्रोत्साहित किया जाता है।

    वि न्यूज 24 के पत्रकार नागमणि 

    ये भी पढ़े-उद्धव सरकार के महाराष्ट्र में लॉकडाउन के फैसले के विरोध में व्यापारी उतरे सडक पर

    आयुष में सूचना, शिक्षा और संचार (IEC) को प्रोत्साहित करने के लिये योजना के अंतर्गत आयुष आयुर्विज्ञान अनुसंधान एवं अस्पताल संस्थान द्वारा राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर आरोग्य मेले, मल्टीमीडिया अभियान, ऑडियो विजुअल सामग्री सहित प्रचार सामग्री का वितरण करना आदि कार्य करता है। COVID-19 महामारी के समय आयुष आयुर्विज्ञान अनुसंधान एवं अस्पताल संस्थान , प्रचार और प्रसार के लिये इलेक्ट्रॉनिक और डिज़िटल प्लेटफॉर्म का प्रभावी उपयोग कर रहा है। आयुष प्रणाली और चिकित्सा के बारे में जनता के मध्य जागरूकता पैदा करने के लिये राजकीय एवं अंतरराजकीय प्रदर्शनियों, सम्मेलनों, कार्यशालाओं, व्यापार मेलों आदि में भाग लेने के लिये  आयुष दवा निर्माताओं, उद्यमियों, आयुष संस्थानों आदि को प्रोत्साहन दिया जाता है। समावेशी, सस्ती, साक्ष्य आधारित स्वास्थ्य सेवाएँ प्राप्त करने हेतु ' राजा आयुष चिकित्सा समिति द्वारा व्यापक एकीकृत स्वास्थ्य नीति के ढाँचे को प्रस्तावित करने के लिये एकीकृत स्वास्थ्य नीति के निर्माण की आवश्यकता है ! 

    वि न्यूज 24 के पत्रकार कृष्ण बिहारी सहाय 

    भी पढ़े-दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश,कार में अकेले हों तो भी मास्क पहनना जरूरी

    इस अवसर पर संस्थान के प्रधान परामर्शी डॉ संजय कुमार झा , प्रोफ़ेसर प्रेम कुमार डॉ रोशन पांडे , विधायक देवेशनन्दन जी ,डॉ एलवी चौधरी,डॉ धनन्जय राय, सुधीर शर्मा,प्रेरणा विजय,अनुरागनी,सुमित रंजन,लखन लखन चंदेल , समेत पूरे बिहार से आयुष चिकित्सक ने भाग लिया ।


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    %25E0%25A4%25B8%25E0%25A5%259E%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25A6



    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad