Haider Aid


 

  • Breaking News

    दुनिया भर को कोरोना की सौगात देने वाले चीन, कोरोना संकट में भारत के मदद को तैयार




    COVID%2BCampaign

    We News 24 Hindi »बीजिंग, चीन

    मिडिया  रिपोर्ट


    बीजिंग: दुनिया भर को कोरोना की सौगात  देने वाले चीन भारत को ओर परोक्ष रूप से दोस्ती का हाथ बढ़ाया है. भारत में बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों पर चीन ने पहली बार प्रतिक्रिया दी है. चीन  ने शुक्रवार को कहा है कि वे कोरोना वायरस का सामना करने के लिए भारत से बात करने के लिए तैयार है. खास बात है कि इससे एक दिन पहले चीन ने भारत को मदद की पेशकश की थी. भारत में गुरुवार को कोविड-19 संक्रमण (COVID-19) के 3 लाख 32 हजार से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह दुनिया का एक दिन में सबसे बड़ा आंकड़ा है.

    ये भी पढ़े-दानापुर में बड़ा हादसा, गंगा में गिरी वैन, एक परिवार के 10 लोगों की मौत .....

    भारत की जरूरतों पर बातचीत को तैयार

    हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वे भारत से कोरोना संक्रमण पर बात करने के लिए तैयार हैं कि इसमें किस चीज की जरूरत है. रिपोर्ट के अनुसार, 'चीन, भारत की जरूरत के अनुसार खास मुद्दों पर बात करने के लिए तैयार है.' गुरुवार को चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेन्बिन ने कहा था कि बीजिंग इस बात को जानता है कि भारत में हालात गंभीर हो गए हैं. साथ ही यहां महामारी को रोकने के लिए जरूरी चीजों की कमी है.

    ये भी पढ़े-पटना जिले में बड़ा हादसा,गंगा नदी पीपा पुल पर गाड़ी पलटी,11 से 12 लोगों की डूबने की आशंका

    चीन जरूरी मदद और समर्थन देने को तैयार

    वांग ने यह प्रतिक्रिया चीन की आधिकारिक मीडिया की तरफ से पूछे सवाल पर दी थी. उनसे पूछा गया था कि भारत में फैल रही महामारी को देखते हुए चीन क्या कार्रवाई कर रहा था. वांग ने कहा था 'चीन जरूरी मदद और समर्थन देने के लिए तैयार है.' हालांकि, इस दौरान उन्होंने इस बात की जानकारी नहीं दी कि इस मदद में क्या शामिल होगा. प्रेस ब्रीफिंग के दौरान उन्होंने कहा 'नोवल कोरोना वायरस पूरी मानवता का शत्रु है और वैश्विक समुदाय को ऐसी महामारियों से लड़ने के लिए एक होने की जरूरत है.'

    ये भी पढ़े-सांसो के लिए तड़पती दिल्ली , बिना ऑक्सीजन दिल्ली के हॉस्पिटल में 25 लोगो की मौत

    बीते साल भारत ने की थी मदद

    बीते साल भारत उन देशों में शामिल था, जो बीजिंग को लगातार मेडिकल सुविधाएं मुहैया करा रहा था. खास बात है कि उस दौरान चीन में कोविड-19 महामारी के हालात ज्यादा गंभीर थे. भारत ने चीन को 15 टन की मेडिकल सप्लाई पहुंचाई थी, जिसमें मास्क, ग्लव्ज और अन्य सामान था. इसकी कीमत करीब 2.11 करोड़ रुपए थी. एक प्रेस वार्ता के दौरान भारत में चीन के राजदूत सुन वीडॉन्ग ने भारत की तरफ से की गई मदद की तारीफ की थी. वहीं, चीन ने अप्रैल में कोविड-19 संबंधी मेडिकल सप्लाई के जरिए भारत का एहसान वापस किया था. उस दौरान भारत में पहली लहर के चलते हालात बेहद खराब हो रहे थे. 



    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    %25E0%25A4%25B8%25E0%25A5%259E%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25A6

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad