Haider Aid

  • Breaking News

    उद्धव सरकार ने अनिल देशमुख को बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया



    We News 24 Hindi »मुम्बई, महाराष्ट्र
    अनिल पाटिल की   की  रिपोर्ट


    मुंबई : अनिल देशमुख के खिलाफ सीबीआई जांच को चुनौती देने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। दरअसल मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने सीबीआई को अनिल देशमुख के खिलाफ जांच करने के आदेश दिए थे। अब इसी फैसले को महाराष्ट्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चनौती दी है। वहीं राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी व्यक्तिगत तौर पर सुप्रीम कोर्ट की शरण ली है।

    ये भी पढ़े-बाहुबली मुख्तार अंसारी किया गया यूपी पुलिस के हवाले , जायेंगे बांदा जेल


    बता दें कि सोमवार को महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने आखिरकार इस्तीफा दे दिया था। उनकी जगह दिलीप वलसे पाटिल राज्य के नए गृहमंत्री होंगे। सोमवार शाम को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्यपाल को पत्र भेजकर गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफा को स्वीकार करने की सिफारिस की थी। देशमुख ने सौ करोड़ रुपये की वसूली मामले पर बॉम्बे हाईकोर्ट से सीबीआई जांच के आदेश जारी होने के बाद इस्तीफा दे दिया है। हाईकोर्ट ने सीबीआई से 15 दिन के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

     

    भी पढ़े-पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की सेहत में धीमा सुधार, स्वास्थ्य स्थिर होने में लगेंगे 3-4 सप्ताह

    परमबीर सिंह ने गृहमंत्री देशमुख के खिलाफ हाईकोर्ट में 100 करोड़ रुपये की वसूली की याचिका लगाई थी। महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हफ्ता वसूली का सच जल्द सामने आएगा। मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह का कहना है कि महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने निलंबित API सचिन वझे को 100 करोड़ रुपये वसूली का टारगेट दिया था। हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं। 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad