Haider Aid

  • Breaking News

    कुख्यात माफिया डॉन मुख्तार अंसारी अगले 72 घंटे में लाया जाएगा उत्तर प्रदेश के बाँदा जेल




    We News 24 Hindi » लखनऊ, उत्तर प्रदेश
    दिनेश जयसवाल  की  रिपोर्ट


    लखनऊ: उत्तर प्रदेश  और पंजाब सरकार के  विवादों और टकरावों के बीच तमाम कानूनी हथकंडो के बाद कुख्यात माफिया  डॉन मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश लाने का रास्ता साफ हो गया है. अगले 72 घंटे के अंदर मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश लाया जा सकता है. यूपी सरकार से जुड़े एक बड़े सूत्र ने इसकी जानकारी दी है. सरकारी सूत्र ने बताया है कि अगले 72 घंटे में मुख्तार अंसारी को राज्य में ला जा रहा है. इसके लिए यूपी पुलिस की एक स्पेशल टीम भी माफिया डॉन को लेने के लिए पंजाब में मौजूद है. मुख्तार अंसारी को यूपी लाते ही बांदा जेल भेजा जाएगा.

    ये भी पढ़े-भारत ने कोरोना मामले में अमेरिका को पीछे छोड़ा,अप्रैल-मई हो सकता है स्तिथि भयावह

    उधर, मुख्तार अंसारी को हैंडओवर करने के लिए पंजाब सरकार ने यूपी सरकार को चिट्ठी भी लिखी है. जिसमें सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 8 अप्रैल या उससे पहले रोपड़ जेल से मुख्तार अंसारी का हैंडोवर लेने को कहा गया है. अपर मुख्य सचिव गृह पंजाब ने यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी को लिखा पत्र है. पत्र में लिखा गया है कि मुख्तार अंसारी को पंजाब की रूपनगर जेल से यूपी पुलिस को सौंपा जाएगा. पंजाब की 12 अप्रैल की सुनवाई में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्तार पेश होगा.


    मोहाली कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी का जिक्र भी यूपी सरकार को भेजी चिट्ठी में किया गया है. पंजाब के अपर मुख्य सचिव गृह ने मुख्तार अंसारी के स्वास्थ्य कारणों का भी दिया हवाला है और साथ ही यूपी स्थानांतरित करने के लिए विधिवत सुरक्षा और मेडिकल व्यवस्थाएं कराने को कहा है.इसके अलावा पंजाब के अपर मुख्य सचिव ने कहा कि शिफ्टिंग के लिए वाहन का बंदोबस्त करते वक्त अंसारी की मेडिकल रिपोर्टस का ध्यान रखा जाए.

     

    भी पढ़े-पटना जिलाधिकारी 12 जागरूकता रथ /धाबा दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

    आपको बता दें कि अंसारी जनवरी 2019 से जिला जेल रूपनगर में बंद है. यूपी सरकार ने कहा कि 30 से अधिक एफआईआर और हत्या के जघन्य अपराध सहित 14 से अधिक आपराधिक मुकदमे और गैंगस्टर अधिनियम के तहत विभिन्न एमपी / एमएलए अदालतों में अंसारी के खिलाफ लंबित हैं, जहां उनकी व्यक्तिगत उपस्थिति की मांग की जाती है. लेकिन अंसारी को यूपी लाए जाने में पंजाब सरकार बार बार अंड़गा डालती दिखी. जिसको लेकर उत्तर प्रदेश सरकार और पंजाब सरकार में टकराव हो गया था.


    बाद में यूपी सरकार ने अनुच्छेद 32 के तहत पंजाब सरकार और रूपनगर जेल प्राधिकरण को अंसारी की कस्टडी को जिला जेल बांदा में सौंपने के निर्देश देने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था. जिस पर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने गैंगस्टर से विधायक बने मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल से उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में स्थानांतरित करने की अनुमति दी थी. न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पीठ ने निर्देश दिया कि अंसारी को दो सप्ताह के भीतर यूपी को सौंप दिया जाए और फिर बांदा जेल में रखा जाए. शीर्ष अदालत ने अनुच्छेद 32 के तहत यूपी सरकार की याचिका को विचारार्थ स्वीकार करते हुए यह निर्णय दिया. 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad