Header Ads


  • BREAKING NEWS

    BREAKING:मध्य प्रदेश से बड़ी खबर आज शाम मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं शिवराज सिंह चौहान

    We News 24 Hindi »मध्य प्रदेश /राज्य
    भोपाल /ब्यूरो रिपोर्ट

    भोपाल: मध्य प्रदेश में सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर आ रही है. शिवराज सिंह चौहान आज शाम मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. वह चौथी बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे. सूत्रों की मानें तो राजभवन में आज शाम शिवराज सिंह चौहान का शपथ ग्रहण हो सकता है. शिवराज के साथ 4 और लोग शपथ ग्रहण कर सकते हैं.

    ये भी पढ़े-COVID-19 :विदेश से आए छात्रों ने कोरोना टेस्ट से किया इनकार, हवाई अड्डे पर की तोड़फोड़



    20 मार्च को कमलनाथ ने दिया था इस्तीफा
    भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने शिवराज सिंह चौहान के नाम पर अपनी सहमति दे दी है. उनके आज शाम 7 बजे शपथ लेने की संभावना है. आपको बता दें कि कांग्रेस सरकार के अल्पमत में आने के बाद बीते 20 मार्च को कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार सिर्फ 459 दिन चल सकी. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से बगावत कर बीते 11 मार्च को भाजपा का दामन थाम लिया था. इसके बाद 22 कांग्रेसी विधायकों ने कमलनाथ सरकार का साथ छोड़ दिया था.

    ये भी पढ़े -COVID-19 :Lock Down नहीं मानने पर सरकार ने लगया पुरे राज्य में कर्फ्यू



    कांग्रेस के बागियों ने थामा भाजपा का दामन
    इन सभी विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद कमलनाथ की सरकार अल्पमत में आ गई थी. ये सभी पूर्व विधायक सिंधिया के समर्थक हैं. जेपी नड्डा की उपस्थिति में इन सभी पूर्व विधायकों ने भाजपा का दामन थाम लिया. वर्तमान दौर में भाजपा मध्य प्रदेश विधानसभा में बहुमत में है. 

    भाजपा के पास बहुमत से 3 ज्यादा विधायक
    मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल सदस्यों की संख्या 230 है. इनमें से दो विधायकों की मृत्यु हो चुकी है. 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद यह संख्या 206 रह गई है. बहुमत का आंकड़ा 104 है. भाजपा के पास 107 विधायक हैं. वहीं कांग्रेस के पास 92 विधायक हैं. बसपा के 2 और सपा का 1 विधायक है. 4 विधायक निर्दलीय हैं.

    ये भी पढ़े -COVID-19 :Lock Down नहीं मानने पर सरकार ने लगया पुरे राज्य में कर्फ्यू

    शिवराज सिंह चौहान बनाएंगे रिकॉर्ड
    आपको बता दें कि शिवराज सिंह चौहान 15 महीने के ब्रेक के बाद चौथी बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बन सकते हैं. वह 2005 से 2018 तक लगातार 13 साल सूबे के मुखिया रह चुके हैं. मध्य प्रदेश के इतिहास में यह पहला मौका होगा, जब कोई व्यक्ति चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेगा. मध्य प्रदेश में शिवराज के अलावा अब तक अर्जुन सिंह और श्यामाचरण शुक्ल तीन-तीन बार सीएम रहे हैं. भाजपा को दिसंबर 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ा था. भाजपा की 109 और कांग्रेस की 114 सीटें आई थीं. कांग्रेस ने 4 निर्दलीय, 2 बसपा और 1 सपा विधायकों के समर्थन से सरकार बनाई थी.

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad