Haider Aid


 

  • Breaking News

    वाराणसी माघी पूर्णिमा और रविदास जयंती के अवसर पर गंगा घाट पर एनडीआरएफ की टीमें तैनात




    We News 24 Hindi » वाराणसी / उत्तर प्रदेश 
    मिडिया की रिपोर्ट

     

    वाराणसी : माघी पूर्णिमा और रविदास जयंती के अवसर पर एनडीआरएफ की टीमों को विभिन्न गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा में गंगा नदी में तैनात किया गया है । इस पर्व पर जनपद वाराणसी और आस पास के जनपदों से श्रद्धालुगन गंगा स्नान एवं श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन एवं पूजन करने के लिए वाराणसी में आते हैं .




     जिसके कारण दशाश्वमेध घाट, शीतलाघाट, राजघाट (भेन्सासुर) घाट इत्यादि घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी रहती है . श्रद्धालुओं की अत्यधिक संख्या को देखते हुए एनडीआरएफ की तीन टीमों को गंगाजी में इन घाटों पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा में मोटरबोट और बचाव कर्मियों सहित तैनात किया गया है । जिसमें गोताखोर, पैरामेडिक्स, डीप डाइविंग सेट, लाइफ जैकेट, लाइफ बॉय व अन्य बचाव उपकरणों के साथ मौजूद हैं .

    ये भी पढ़े-सीतामढ़ी से बड़ी खबर , जमीनी विवाद में गोली मारकर चाचा-भतीजा को जख़्मी कर दिया है

    इस अवसर पर 11 एनडीआरएफ के उपमहानिरीक्षक श्री अलोक कुमार सिंह ने बताया कि माघी पूर्णिमा और रविदास जयंती के अवसर पर श्रद्धा की डुबकी लगाने आये लाखों श्रद्धालुओं  के लिए इस पावन पर्व पर प्रत्येक वर्ष की भांति एनडीआरएफ की टीमें वाराणसी के घाटों पर पवित्र स्नान के दौरान श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए तैनात की गयी हैं .




    और उन्होंने अपील की के दूर दूर से आये श्रद्धालु सावधानी बरतते हुए इस पर्व को मनाएं और एनडीआरएफ उनके इस पर्व को सफल बनाने के लिए व किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए उनकी सुरक्षा में उपस्थित है I कोरोना महामारी का प्रभाव कम हुआ है पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है इसलिए इसके सुरक्षा मानकों एवं बचाव के तरीकों का भी ध्यान रखना जरूरी है .


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad